Advertisement

patna

  • Nov 19 2019 10:58PM
Advertisement

सृजन घोटाले का ट्रायल शुरू, घोटाले की राशि 19 सौ करोड़ तक पहुंचने का अनुमान

सृजन घोटाले का ट्रायल शुरू, घोटाले की राशि 19 सौ करोड़ तक पहुंचने का अनुमान
FILE PIC

पटना/भागलपुर : बिहार के बहुचर्चित सृजन घोटाला मामले की मंगलवार को सीबीआइ की विशेष अदालत में ट्रायल शुरू हो गया. पटना स्थित सीबीआइ कोर्ट की विशेष न्यायाधीश गीता गुप्ता की अदालत में इस मामले के पहले अभियुक्त विनोद मंडल के खिलाफ सुनवाई आरंभ हुई. जिला नजारत में हुए 12 करोड़ 20 लाख 15 हजार 75 रुपये के सरकारी राशि गबन के मामले में दायर केस संख्या 6/17 जिसमें विनोद मंडल अभियुक्त है, इसमें भागलपुर डीएम कार्यालय में सेवानिवृत कार्यालय अधीक्षक नंदकिशोर मालवीय की गवाही करायी गयी. अगली गवाही दो दिसंबर को होगी.

सीबीआइ ने सृजन मामले में 14 प्राथमिकी दर्ज की है. इसमें 24 अभियुक्त बनाये गये हैं, जिसमें एक को छोड़ एडीएम रही जयश्री ठकुर समेत सभी जेल में है. सीबीआइ ने सभी आरोपितों के खिलाफ चार्ज शीट दायर कर दी है. इनमें से एक अभियुक्त विनोद मंडल भी है. सीबीआइ द्वारा दायर की गयी चार्जशीट के अनुसार घोटाले की रकम 19 सौ करोड़ तक पहुंचने का अनुमान है. सृजन घोटाले का यह मामला साढ़े पांच करोड़ रुपये के गबन से संबंधित है.

इसमें सीबीआइ ने 28 अगस्त, 2017 को दो अभियुक्तों विनोद मंडल व भागलपुर के इंडियन बैंक के सहायक शाखा प्रबंधक तौकीर कासिम को अभियुक्त बनाया था. इस मामले में तौकीर कासिम अभी फरार है. इसके खिलाफ अदालत ने इश्तेहार भी जारी कर दिया है. सीबीआइ अब तक सृजन घोटाले में 24 अभियुक्तों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है.
 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement