Advertisement

patna

  • Apr 21 2017 6:00PM

पटना में कबाड़ी की आड़ में चलता था नकली दवा का कारोबार, करोड़ों की दवाएं जब्त

पटना में कबाड़ी की आड़ में चलता था नकली दवा का कारोबार, करोड़ों की दवाएं जब्त

पटना : बिहार में अवैध व नकली दवाओं का कारोबार करोड़ाें में होता है. बाजार में नकली विटामिन की गोलियों से लेकर जीवनरक्षक दवाएं, टेबलेट व सीरप ब्रांडेड कंपनियों के बनाये जा रहे है और उन्हें बाजार में सप्लाई की जा रही है. इसका खुलासा उस समय हुआ जब पटना पुलिस की टीम ने गुप्त सूचना पर कई जगहों पर छापेमारी कर लाखों कीमत की नकली व अवैध दवाओं की बड़ी खेप को बरामद करने में सफलता पायी.

पटना पुलिस और ड्रग विभाग की टीम ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर पटना के जक्कनपुर स्थित बिस्कोमान कॉलोनी के एक घर से करोड़ों रुपये की अवैध और नकली दवाएं जब्त की हैं. इस मामले मे तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. बताया जाता है कि एक्सपायर्ड दवाओं की बोतल में केमिकल मिलाकर बेचा जाता था.

सेना के जवानों ने सब्जी बेचनेवाले बच्चों को पीटा


इसका सरगना रमेश पाठक है जो कबाड़ी का धंधा करता है और कबाड़ी में लायी गयीं एक्सपायर्ड दवाओं के बोतल में नकली दवाएं डालकर बेचता है. पुलिस को इसकी जानकारी मिली तो उसने ड्रग विभाग की टीम के साथ छापेमारी की तो इसका खुलासा हुआ. ड्रग इंस्पेक्टर ने बताया कि जब्त दवाएं करोड़ों रुपये की हैं.

पटना के एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि नकली दवा और एक्सपायरी डेट की दवा को नये लेबल लगाकर सप्लाई करनेवाले गिरोहों का पुलिस और दवा विभाग की टीम ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर तीन लोगों को पटना के विभिन्न जगहों से गिरफ्तार किया है. उन्होंने बताया कि अवैध व नकली दवाओं पर पुलिस की भी नजर है. सभी थानाध्यक्षों को स्पष्ट निर्देश दे दिया गया है कि वे सूचना मिलने पर त्वरित कार्रवाई करें.
 


Advertisement
पोल
इस बार गुजरात में किसकी बनेगी सरकार? क्या है आपकी राय बतायें?


View Result
Advertisement

Comments