Pathak Ka Patra

  • Jan 17 2020 7:23AM
Advertisement

गंभीर खतरे की ओर संकेत

डीएसपी देविंदर सिंह का कुत्सित आचरण यह बताता है कि कश्मीर में फैला आतंकवाद किस तरह एक कारोबार का रूप ले चुका है. आम धारणा है कि इस कारोबार को कुछ नेता और व्यापारी ही परोक्ष रूप से समर्थन दे रहे हैं, लेकिन देविंदर सिंह की गिरफ्तारी ने एक और गंभीर खतरे की ओर संकेत किया है.
 
अब जब अनुच्छेद 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर का प्रशासनिक स्तर पर नये सिरे से कायाकल्प किया जा रहा है, तब फिर इस पर ध्यान दिया जाना आवश्यक है कि राज्य पुलिस और अधिक समर्थ कैसे बने? अब हर उस शख्स की पड़ताल होनी चाहिए, जिसे लेकर तनिक भी यह संदेह हो कि वह आतंकियों का हमदर्द है.
डॉ हेमंत कुमार, भागलपुर, बिहार
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement