Advertisement

Pathak Ka Patra

  • Aug 21 2019 6:11AM
Advertisement

जनसंख्या नियंत्रण करने का संदेश सराहनीय कदम

धरती पर जैव विविधता को बचाने के लिए महत्वपूर्ण संसाधनों में जल, हवा और मिट्टी की आवश्यकता सर्वोपरि है. अचरज की बात है कि आज इन सभी संसाधनों की कमी धरती को जीवन के ग्रह से दूर लेती जा रही है. अगर हम बात जल की करें, तो स्थिति भयावहता की ओर इंगित करती है. 
 
पानी का प्लास्टिक के बोतलों में कैद होना इसके समाप्त होने का संकेत देता है और ऊपर से द्रूत होती जनसंख्या धरा पर पर्याप्त संसाधनों का तीव्र गति से उपभोग प्रकृति के संतुलन को दिशाहीन करके रख दिया है, जिसके फलस्वरूप जगह-जगह बाढ, सुखाड़, भूस्खलन जैसी समस्या अपनी बाहें फैला रही हैं. स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लालकिले से जनसंख्या के संदर्भ में नियंत्रण का संदेश फन फैलाती आबादी पर सराहनीय कदम माना जा सकता है.
अभिनव कुमार, लोहिया नगर (बेगूसराय)
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement