Advertisement

Palamu

  • May 19 2017 8:43AM

रैनबो का ऑफिस सील

मेदिनीनगर/चैनपुर : पलामू में नन बैंकिंग के खिलाफ एक बार फिर कार्रवाई शुरू कर दी गयी है. गुरुवार को सदर अनुमंडल पदाधिकारी नैंसी सहाय के नेतृत्व में शाहपुर में स्थित रैनबो नन बैंकिंग के कार्यालय को सील कर दिया गया. साथ ही कागजात जब्त कर लिया गया है. रैनबो कॉपरेटिव संस्था के रूप में निबंधित है. लेकिन कंपनी द्वारा नन बैंकिंग के रूप में किया जा रहा था. 
 
वहीं प्रावधान के मुताबिक कोई भी कॉपरेटिव संस्था में जो सदस्य रहते हैं, वहीं पैसा जमा करते हैं और उसे निकालते हैं. लेकिन रैनबो कंपनी के कार्यालय से जो कागजात मिले हैं, उसके मुताबिक एजेंट बहाल कर एफडी के माध्यम से पैसे लिये गये है. रेकरिंग खाता खोला गया है. एक अनुमान के मुताबिक करोड़ों रुपये लोगों का जमा है. इसका आकलन किया जा रहा है. एसडीओ श्रीमति सहाय ने बताया कि जांच के बाद ही यह स्पष्ट हो पायेगा कि कितने पैसे जमा किये गये हैं और उसका निवेश कहां किया गया है. कार्यालय को सील किया गया है. 
 
बैंक के मैनेजर मनीष अग्रवाल से जब पूछताछ की गयी, तो कई चौंकाने वाले तथ्य उभर कर सामने आये हैं. एसडीओ श्रीमती सहाय ने बताया कि रेनबो का शाहपुर के अलावा पड़वा, सतबरवा, लेस्लीगंज में भी शाखा चलता है. 
 
मालूम हो कि बुधवार को पड़वा में भी रेनबो का कार्यालय से पंजी जब्त की गयी है और जांच की जा रही है. बीडीओ सुरेंद्र कुमार के नेतृत्व में कार्रवाई की गयी थी. कार्रवाई के दौरान सीओ परमानंद डॉग, थाना प्रभारी कुणाल कुमार आदि शामिल थे. 
 
2014 से हेड ऑिफस बंद, बाद में खुला शाहपुर में ब्रांच
 
रैनबो सोसाइटी के जांच के दौरान कई चौंकाने वाले तथ्य उभर कर सामने आये है. सदर एसडीओ नैंसी सहाय ने बताया कि जो बोर्ड कार्यालय में लगे हैं और जो कागजात मिले हैं, उसके मुताबिक रैनबो का प्रधान कार्यालय धनबाद के बैंक मोड़ में है. वर्ष-2014 में धनबाद का कार्यालय सील कर दिया गया और वहां के निदेशक पर मामला दर्ज किया गया था. 
 
उसके बाद शाहपुर में ब्रांच खोला गया है. इसी को लेकर जब एसडीओ श्रीमती सहाय ने प्रबंधक से जानना चाहा, तो उसने एक लेटर दिखाया जो कि उक्त निदेशक ने जारी किया था, जिसके खिलाफ खुद मामला चल रहा है. जांच के क्रम में यह बात भी सामने आया है कि धनबाद में कार्यालय बंद होने के बाद बिहार के औरंगाबाद कार्यालय खोल कर अपने कार्यों का संचालन किया जा रहा है. एसडीओ श्रीमती सहाय ने बताया कि प्रारंभिक जांच में जो बातें सामने आ रही है, उससे यह साफ हो रहा है कि इसके तार कई अन्य जगहों से जुड़े हुए हैं. सभी पहलुओं पर छानबीन शुरू कर दी गयी है.
 

Advertisement

Comments