Advertisement

Palamu

  • Apr 24 2019 1:00AM
Advertisement

झुठ की बुनियाद पर टिकी है भाजपा : हेमंत सोरेन

नावाबाजार : पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि भाजपा की सरकार झूठ की बुनियाद पर टिकी हुई है. गांव- गांव में बिजली पहुंचाने का झूठा आंकड़ा पेश किया जा रहा है. गांव में पीने का पानी नहीं है. शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है. झारखंड में कोयला प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है. ग्रामीण इलाकों में रसोई गैस का वितरण कर दिया गया. लोगों को गैस जलाने का प्रशिक्षण नहीं दिया गया.

आये दिन घटना हो रही है. झुलस कर महिलाएं मर रही है. यदि गरीबों की अधिक चिंता है, तो उन्हें कोयला उपलब्ध कराये. लेकिन गैस इसलिए उपलब्ध कराया जा रहा है कि इसका लाभ पूंजीपतियों को मिले.दरअसल गरीब बहाना है.

असली उद्देश्य पूंजीपतियों को मजबूत करना है. पूर्व मुख्यमंत्री श्री सोरेन मंगलवार को पलामू के नावाबाजार में महागठबंधन प्रत्याशी घूरन राम के पक्ष में आयोजित चुनावी सभा में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि भाजपा विकास का झूठा ढिंढोरा पीट रही है. जमीन पर विकास नजर नहीं आ रहा है. पांच साल में भाजपा ने देश को तहस-नहस करने का काम किया है. चुनाव जीतने के लिए भाजपा हर तरह की हथकंडे अपना रही है. लेकिन तमाम हथकंडे इस बार विफल होने वाला है. क्योंकि जनता भाजपा के असली राजनीति चाल चरित्र को समझ चुकी है.

भाजपा पुंजीपतियों का कर्ज माफ करती है जबकि गरीब कर्ज के कारण आत्महत्या कर रही है. कार्यक्रम का संचालन राजद जिलाध्यक्ष शंकर यादव ने किया. इस मौके पर महागठबंधन के प्रत्याशी घुरन राम ने कहा कि पांच साल में भाजपा ने गरीब, किसान, युवा सभी को छलने का काम किया है. पारा शिक्षकों को हक मांगने पर उन्हें पीटा गया. अनुबंध कर्मियों के साथ सरकार सौतेला व्यवहार किया.

उन्होंने कहा कि इस बार जनता महागठबंधन के पक्ष में गोलबंद हो गयी है. इस मौके पर झामुमो के जिलाध्यक्ष राजेंद्र सिन्हा, विश्रामपुर विस के पूर्व कांग्रेस प्रत्याशी अजय दुबे, झामुमो के डॉ शशिभूषण मेहता सुनील तिवारी, अभिमन्यु सिंह, अंजु देवी, संजीव तिवारी, कांग्रेस के संतोष चौबे, विजय चौबे, मुमताज शाह, जिप सदस्य अनुज राम, प्रमोद यादव,मिथिलेश विश्वकर्मा, विनोद विश्वकर्मा, पटेल दुबे, विकास दुबे, खुर्शीद आलम, रामचंद्र दीक्षित, राजेंद्र सोनी, नरेश सिंह सहित कई लोग मौजूद थे.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement