Advertisement

Palamu

  • Jan 6 2019 8:02AM

मेदिनीनगर : सुखाड़ व पलायन से मिलेगा छुटकारा : सीएम रघुवर दास

मेदिनीनगर : सुखाड़ व पलायन से मिलेगा छुटकारा : सीएम रघुवर दास

मेदिनीनगर : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि मंडल परियोजना का काम पूरा हो जाने के बाद पलामू प्रमंडल को सुखाड़ से मुक्ति मिलेगी, साथ ही पलायन के अभिशाप से भी यह इलाका मुक्त हो जायेगा,  क्योंकि मंडल 47 वर्ष पुरानी परियोजना है. डॉ मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्रीत्वकाल में इस परियोजना को बंद कर दिया गया था. लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने इस परियोजना के शेष कार्य को पूरा कराने की मंजूरी दी. 

इसके लिए सवा तीन करोड़ झारखंडवासियों की तरफ से हम प्रधानमंत्री श्री मोदी के प्रति आभार व्यक्त करते हैं. मुख्यमंत्री श्री दास मंडल सहित अन्य कई परियोजनाओं की आधारशिला को लेकर मेदिनीनगर के चियांकी हवाई अड्डा मैदान में आयोजित सभा में बोल रहे थे. इन परियोजनाओं की आधारशिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रखी.

प्रधानमंत्री की मौजूदगी में मुख्यमंत्री ने जहां झारखंड सरकार की उपलब्धियों को गिनाया, वहीं कांग्रेस पर राजनीतिक हमला भी बोला. उन्होंने कहा कि लालबहादुर शास्त्री जी ने जय जवान, जय किसान का नारा दिया था, लेकिन कांग्रेस के जमाने में किसान व जवान दोनों बदहाल थे. 

श्री मोदी के कार्यकाल में जवान व किसान दोनों की बेहतरी के लिए कार्य किया जा रहा है, जिससे उनके जीवन में बदलाव आ रहा है. पलामू प्रमंडल का इलाका सुखाड़ व अकाल से प्रभावित रहा है. इस इलाके को सुखाड़ व अकाल से मुक्ति दिलाने के लिए प्रयास किया जा रहा है. मंडल परियोजना के बाद गढ़वा के कनहर और पलामू के तहले परियोजना पर भी जल्द काम शुरू होगा. इसके लिए सरकारी स्तर पर काम शुरू कर दिया गया है.

किसानों को कर्ज लेकर खेती करने की जरूरत न पड़े, इसके लिए बरसात से पहले किसानों के खाते में राशि उपलब्ध करा दी जायेगी, ताकि वह खाद-बीज लेकर समय पर खेती कर सकें. 2020 तक झारखंड में कोई भी बेघर नहीं रहेगा. इस लक्ष्य को लेकर काम हो रहा है. मुख्यमंत्री श्री दास ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में ईमानदारी व पारदर्शिता के साथ काम हो रहा है. कांग्रेस पार्टी के मां-बेटे बेल पर हैं और ईमानदार छवि के प्रधानमंत्री को हटाने के लिए सभी भ्रष्टाचारी एकजुट हो रहे हैं. लेकिन देश की जनता सजग व समझदार है. भ्रष्टाचारियों की किसी कीमत पर दाल नहीं गलने देगी.

मुख्यमंत्री श्री दास ने सुकन्या योजना पर चर्चा करते हुए कहा कि अब बेटी बोझ नहीं है. बेटी पढ़े और बढ़े, इसके लिए सरकार काम कर रही है. सुकन्या योजना से बाल विवाह पर भी अंकुश लगेगा. उन्होंने कहा कि सरकार ने ग्लोबल वैश्विक फूड आयोजित कर किसानों को खेती की नयी-नयी तकनीक की जानकारी देकर उनकी आय को बढ़ाने का प्रयास शुरू कर दिया है. 

पहली बार सरकार ने किसानों को उन्नत तकनीक की जानकारी देने के लिए इजराइल भेजा और महिला किसानों को भी जनवरी माह में इजरायल भेजा जायेगा. उन्होंने कहा कि कम पानी व कम लागत में अधिक उत्पादन हो, इसके लिए सरकार सक्रियता के साथ कार्य कर रही है. 

प्रधानमंत्री का किया स्वागत: प्रधानमंत्री के मेदिनीनगर आगमन पर उनका स्वागत राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, मुख्यमंत्री रघुवर दास सहित सांसद, विधायक, मेयर एवं भाजपा नेताओं ने किया. स्वागत करने वालों में विधायक राधाकृष्ण किशोर, भानु प्रताप शाही, प्रकाश राम, सत्येंद्र तिवारी, मेयर अरुणा शंकर, भाजपा किसान मोरचा के प्रदेश अध्यक्ष ज्योतिरीश्वर सिंह, प्रदेश मंत्री मनोज सिंह, जिप अध्यक्ष प्रभा देवी, उपाध्यक्ष संजय सिंह, पूर्व उपाध्यक्ष विनोद सिंह सहित कई लोगों के नाम शामिल हैं. 

खूंटी की महिलाओं की चर्चा

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में झारखंड के खूंटी की महिलाओं की चर्चा की. उन्होंने कहा कि खूंटी की नीलू, अंजली, गायत्री पहले खुद रानी मिस्त्री के रूप में ट्रेनिंग ली. अपना घर बनाया और अब वह महिलाएं दूसरों का घर बना रही है. महिला सशक्तीकरण की दिशा में इस तरह का कार्य जरूरी है. 

टीम भावना के कार्य को मिली सराहना

मंडल परियोजना में टीम वर्क ने काम किया. टीम भावना के तहत किये गये काम का ही परिणाम है कि 47 वर्षों से अधूरी मंडल परियोजना का कार्य धरती पर उतर रहा है. टीम वर्क का जिक्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में किया.

कहा कि पलामू सांसद वीडी राम, चतरा सांसद सुनील सिंह, औरंगाबाद सांसद सुशील सिंह, गया सांसद हरि मांझी मंडल परियोजना का काम शुरू हो, इसके लिए एक टीम के रूप में काम कर रहे थे. खुद दोनों राज्य के सांसद एक टीम के रूप में दौड़ते रहे और उन्हें भी दौड़ाते रहे. सक्रियता का ही प्रतिफल है कि आधी सदी के बाद यह परियोजना धरती पर उतरी.

लाभुकाें काे गृह प्रवेश कराया प्रधानमंत्री ने

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पलामू के 25 हजार प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभुकों को गृह प्रवेश कराया. सांकेतिक रूप से प्रधानमंत्री श्री मोदी ने पांच लाभुकों को घर की चाबी सौंपी. जिन लाभुकों को प्रधानमंत्री के हाथों घर की चाबी मिली, उसमें पलामू के सदर प्रखंड के कालेश्वरी देवी, ललिता देवी, रीना देवी, ललिता देवी, देवंती देवी के नाम शामिल हैं. 

किसानों को जीवनदान मिला : सुनील सिंह

मंडल परियोजना के शिलान्यास समारोह में स्वागत भाषण चतरा सांसद सुनील सिंह ने दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा कि मंडल परियोजना की आधारशिला रखे जाने से 47 वर्षों का सपना आज पूरा हो रहा है. केंद्र सरकार के इस कदम से किसानों को जीवनदान मिला है. क्योंकि मंडल परियोजना के नाम पर सिर्फ आज तक राजनीति होती रही. लोग सपना देख रहे थे कि किसी तरह मंडल का काम पूरा हो.

प्रधानमंत्री के इस कदम से कि वह स्वप्न आकार ले रहा है. क्योंकि पलामू के लोगों ने वह भी देखा कि किस तरह 1991 में तत्कालीन प्रधानमंत्री को भी झूठी रिपोर्ट दे दी गयी. प्रधानमंत्री को दिखाने के लिए एक कुएं में डीजल पंप से पानी भर दिया गया था. उन्होंने कहा कि जहां तक पलामू के अकाल व सुखाड़ का सवाल है, तो यहां की सुखाड़ मानव व व्यवस्था निर्मित है, क्योंंकि यहां पानी का अभाव नहीं है, बल्कि नीयत का अभाव था. परियोजना से पलामू व गढ़वा की धरती की प्यास बुझेगी. 

पलामू व गढ़वा को अपेक्षित लाभ मिलेगा : वीडी राम

पलामू सांसद वीडी राम ने धन्यवाद ज्ञापन दिया. अपने संबोधन में सांसद श्री राम ने कहा कि मंडल परियोजना से पलामू व गढ़वा को अपेक्षित लाभ मिलेगा. 47 वर्षों के बाद उत्तर कोयल परियोजना का अधूरा कार्य पूर्ण होगा. 

इस परियोजना से न सिर्फ पलामू जिला का जल स्तर बढ़ेगा, बल्कि मोहम्मदगंज बराज के दायीं व बायीं नहर से पलामू व गढ़वा जिले के कई प्रखंडों में सिंचाई की भी सुविधा मिलेगी. गढ़वा जिला के 2320 व पलामू के 12470 हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी. साथ ही पलामू-गढ़वा को पेयजल की समस्या दूर करने और किसानों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराने के लिए सोन कनहर सिंचाई परियोजना को भी मंजूरी मिली. इससे न सिर्फ किसानों की स्थिति बदलेगी, बल्कि पलामू प्रमंडल में विकास का बेहतर वातावरण तैयार होगा. सांसद श्री राम ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया.

टीम भावना को मिली सफलता : सुशील सिंह

औरंगाबाद सांसद सुशील सिंह  ने मंडल परियोजना के आधारशिला रखे जाने पर प्रसन्नता जाहिर की. इसके लिए  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति अाभार जताया. कहा कि टीम भावना से यदि  कार्य किया जाये, तो सफलता मिलती है. मंडल परियोजना को लेकर वह वर्ष 2009 से  ही लगे थे. 

क्योंकि यह किसानों की उम्मीद थी. उनके संसदीय क्षेत्र के कई लोग जो उम्र में उनसे बड़े हैं, वह हमेशा यह पूछते थे कि क्या हमलोग इस जीवन  में मंडल का पानी अपनी खेत में देख लेंगे. आज वैसे लोगों की उम्मीद पूरी  हुई. इस परियोजना से बिहार व झारखंड के रिश्ते और मजबूत और प्रगाढ़  होंगे.इस परियोजना को मंजूरी दिलाने में पलामू सांसद वीडी राम, चतरा सांसद  सुनील सिंह, गया सांसद हरि मांझी की भूमिका अहम रही. सभी ने टीम के रूप में  काम किया. आज के कार्यक्रम के बाद वह कितने खुश हैं, इसे शब्दों में व्यक्त नहीं कर सकते.

 

Advertisement

Comments

Advertisement