Advertisement

Palamu

  • Nov 11 2019 1:56AM
Advertisement

दल पर भारी पड़ता रहा है व्यक्तित्व, जेल से जीते थे मधु, विदेश ने लगायी थी हैट्रिक

दल पर भारी पड़ता रहा है व्यक्तित्व, जेल से जीते थे मधु, विदेश ने लगायी थी हैट्रिक

 अजीत तिवारी, पांकी (पलामू)

पांकी विधानसभा क्षेत्र का राजनीतिक इतिहास को देखे, तो यहां दल से अधिक व्यक्ति का दबदबा रहा है. बात चाहे पूर्व मंत्री संकटेश्वर सिंह या फिर मधु सिंह की हो या फिर विदेश सिंह (अब तीनों स्वर्गीय) की.  ये अपने दम पर चुनाव जीतते रहे. मधु सिंह ने जहां पहली बार जेल में रह कर जीत दर्ज की थी. तो संकटेश्वर सिंह ने कांग्रेस के साथ-साथ निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव जीता था. 
 
लगातार तीन बार चुनाव जीतने का इतिहास विदेश सिंह के नाम रहा है. विदेश सिंह 2000 के चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में महज 37 मतों के अंतर से मधु सिंह से चुनाव हार गये थे. इस मामले में उन्होंने उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी. इसमें भी फैसला विदेश सिंह के पक्ष में आया था. 
 
इस चुनाव के बाद 2005, 2009, 2014 के चुनाव में विधायक विदेश सिंह जिस दल से चुनाव लड़े जनता ने उन पर विश्वास जताया. 2016 में उनके निधन के बाद उनके पुत्र देवेंद्र सिंह उर्फ बिट्टू सिंह ने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीता. दूसरे स्थान पर रहे झामुमो नेता डॉ शशिभूषण मेहता इस बार भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.
 
कुल वोटर  265916
पुरुष वोटर 140837
महिला वोटर 125079
 
तीन महत्वपूर्ण कार्य जो हुए
1. अमानत नदी पर पुल का निर्माण
2. मनातू से चक तक सड़क निर्माण
3. पॉलटेक्निक कॉलेज की स्थापना
 
तीन महत्वपूर्ण कार्य जो नहीं हो सके
1. पांकी को अनुमंडल का दर्जा नहीं
2. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नहीं
3. उरूर नदी पुल निर्माण काम अधूरा
 
तीन चुनाव का रिकाॅर्ड
2005 
 
23.89
जीते : विदेश सिंह (राजद )
प्राप्त मत :  43350
हारे : बीएन सिंह (भाकपा माले)
प्राप्त मत : 22928
 
तीसरे स्थान : मधु सिंह (निर्दलीय)
प्राप्त मत : 16729
 
लोगों का  विश्वास कायम रखा : बिट्टू सिंह
विधायक देवेंद्र सिंह उर्फ बिट्टू सिंह ने कहा कि विकास और विश्वास का जो वातावरण दिवंगत विधायक विदेश सिंह ने बनाया था,  उसे कायम रखते हुए वह पांकी विधानसभा क्षेत्र को विकास के मामले में नंबर वन बनाये रखने में पूरी सक्रियता के साथ काम किया है. उप चुनाव में जनता का आशीर्वाद मिलने के बाद जनविश्वास की रक्षा कर उन्होंने इलाके में विकास का इतिहास रचने का काम किया है.
 
चंद ठेकेदारों को उपकृत किया : डॉ मेहता 
डॉ शशिभूषण मेहता का कहना है कि विकास का सिर्फ ढिंढोरा पीटा गया है. क्षेत्र के विकास के नाम पर विधायक द्वारा चंद ठेकेदारों को उपकृत किया गया है. राज्य व केंद्र सरकार ने जो योजना चलायी है, उसका लाभ जरूरतमंदों तक पहुंचा है. 
 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement