Advertisement

Palamu

  • Jan 5 2019 10:28AM

प्रधानमंत्री के साथ पलामू आयेंगे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार! छह परियोजनाओं की एक-एक बात यहां पढ़ें

प्रधानमंत्री के साथ पलामू आयेंगे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार! छह परियोजनाओं की एक-एक बात यहां पढ़ें
File Photo.

विनोद पाठक

गढ़वा : पलामू प्रमंडल के सबसे बड़े बांध की आधारशिला रखने आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश भी झारखंड आ सकते हैं. पीएम के साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी होंगे. इतना ही नहीं, गया के सांसद हरि मांझी के भी पीएम के कार्यक्रम में भाग लेने की संभावना है. बताया जाता है कि झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू और मुख्यमंत्री रघुवर दास डाल्टनगंज में प्रधानमंत्री का स्वागत करेंगे.

इस महत्वाकांक्षी परियोजना के शिलान्यास समारोह में मंच पर प्रधानमंत्री के साथ हजारीबाग और लोहरदगा के सांसद क्रमश: जयंत सिन्हा और सुदर्शन भगत मौजूद रहेंगे. झारखंड के नगर विकास मंत्री सीपी सिंह और स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी को भी पीएम के मंच पर जगह मिली है. पलामू और लातेहार के सांसद वीडी राम एवं सुनील सिंह भी कार्यक्रम में शामिल होंगे. दोनों मंच पर मौजूद रहेंगे.

ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंडल डैम के अधूरे कार्यों को पूरा करने समेत कई अन्य सिंचाई परियोजनाओं का शिलान्यास करने के लिए पलामू आ रहे हैं. मंडल डैम से बिहार के खेतों को सबसे ज्यादा फायदा होने वाला है.

आज इन छह परियोजनाओं का होगा शिलान्यास

1. सोन नहर पाइपलाइन सिंचाई योजना

गढ़वा जिला में पाइपलाइन से विभिन्न जलाशयों को भरकर पेयजल एवं सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने हेतु रु 1169.28 करोड़ रुपये की लागत से सोन नहर पाइपलाइन परियोजना का निर्माण कराया जा रहा है. इसके अंतर्गत कुल 73.80 एमसीएम पानी लिफ्ट किये जाने का प्रावधान है. योजना से 12.89 एमसीएम का इस्तेमाल पेयजल के लिए, तो 60.92 एमसीएम पानी का इस्तेमाल सिंचाई के लिए किया जायेगा.

इन प्रखंडों को होगा फायदा : गढ़वा जिला के रंका, धुरकी, रामकंडा, रमणा, चिनिया, डंडई, भंडरिया, गढ़वा, नगरउंटारी, मेराल, मझिआंव, भवनाथपुर, कांडी, केतार, खरौंधी, संगमा, विशुनपुरा प्रखंड को सिंचाई एवं पेयजल की सुविधा मिलेगी.

2. उत्तर कोयल (मंडल डैम) परियोजना

इस योजना का शीर्ष कार्य (डैम) लातेहार जिला के बरवाडी प्रखंड में उत्तर कोयल नदी पर निर्मित है. 2391.36 करोड़ रुपये की लागत से परियोजना का काम पूरा होगा और झारखंड राज्य के गढ़वा एवं पलामू जिला में 19,604 हेक्टेयर भूमि की सिंचाई होगी.

3. बतेर वीयर योजना का पुनरोद्धार एवं लाइनिंग कार्य

पलामू जिला के हरिहरगंज प्रखंड में बतेर नदी पर निर्मित इस योजना के पुनरोद्धार एवं मुख्य नहरों के लाइनिंग कार्य के लिए 17.47 करोड़ रुपये दिये गये हैं. दो साल में काम पूरा हो जायेगा. इस योजना के पूरा हो जाने के बाद झारखंड राज्य में 1008 हेक्टेयर में खरीफ तथा 112 हेक्टेयर में रबी की फसल की सिंचाई हो सकेगी.

4. बायीं बांकी जलाशय योजना का पुनरोद्धार एवं लाइनिंग कार्य

यह योजना गढ़वा जिला के नगरउंटारी प्रखंड में है. 24.80 करोड़ रुपये की योजना के पुनरोद्धार एवं मुख्य नहरों की लाइनिंग होगी. दो साल में काम पूरा हो जाने के बाद झारखंड में 1200 हेक्टेयर खरीफ तथा 400 हेक्टेयर में रबी की खेती वाले क्षेत्रों को सिंचाई की सुविधा मिलेगी.

5. अंजनवा जलाशय योजना का पुनरुद्धार एवं लाइनिंग कार्य

चतरा जिला के मयूरहंड प्रखंड में स्थित 67.53 करोड़ रुपये की इस योजना के पुनरोद्धार एवं मुख्य नहरों की लाइनिंग होगी. दो साल में काम पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. योजना से झारखंड राज्य के 1560 हेक्टेयर में खरीफ तथा 400 हेक्टेयर में रबी की फसल वाले इलाके को सिंचाई सुविधा उपलब्ध होगी.

6. ब्राह्मणी सिंचाई योजना का पुनरोद्धार एवं लाइनिंग कार्य

पश्चिमी सिंहभूम के चक्रधरपुर प्रखंड में स्थित 11.62 करोड़ रुपये की इस योजना से खरीफ की खेती वाले 1350 हेक्टेयर भूमि की सिंचाई हो सकेगी. अधूरे कार्य को पूरा करने के लिए दो साल का समय तय किया गया है.

Advertisement

Comments

Advertisement