Advertisement

Others

  • Nov 16 2019 9:18AM
Advertisement

श्रीलंका राष्ट्रपति चुनाव : मतदाताओं को ले जा रही बसों के काफिले पर बंदूकधारियों ने की गोलीबारी

श्रीलंका राष्ट्रपति चुनाव : मतदाताओं को ले जा रही बसों के काफिले पर बंदूकधारियों ने की गोलीबारी

कोलंबो : श्रीलंका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए शनिवार को मतदान जारी है. इसी बीच एक बड़ी खबर वहां से आ रही है. जानकारी के अनुसार श्रीलंकाई मतदाताओं को ले जा रही बसों के काफिले पर बंदूकधारियों ने की गोलीबारी कर दी. हालांकि इस गोलाबारी में फिलहाल किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.

आपको बता दें कि ईस्टर में चर्चों पर हुए हमले के बाद यह देश में पहला बड़ा चुनाव है जिस कारण सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी है. हमले को लेकर पुलिस का कहना है कि बंदूकधारियों ने हमले की साजिश पहले ही बना रखी थी. उन्होंने बसों के बेड़े को रोकने के लिए सड़क पर टायर जलाकर फेंके थे जिसके बाद जैसे ही बसें उस रूट से गुजरीं, उन्होंने हमला कर दिया. कुछ हमलावरों ने बसों पर पत्थरबाजी भी की.

चुनाव है महत्वपूर्ण

ईस्टर के दिन हुए बम धमाकों के बाद हुए राजनीतिक ध्रुवीकरण और सुरक्षा चुनौतियों को देखते हुए श्रीलंका के भविष्य के लिए यह निर्वाचन महत्वपूर्ण माना जा रहा है. चुनाव में पूर्व रक्षा मंत्री गोटाबया राजपक्षे और सत्ताधारी दल के उम्मीदवार सजित प्रेमदासा के बीच कड़ी टक्कर है.

1.59 करोड़ मतदाता कर रहे हैं अपने मताधिकार का प्रयोग

चुनाव में श्रीलंका के 1.59 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं और 35 प्रत्याशियों में से एक को वर्तमान राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना का उत्तराधिकारी चुनेंगे. सत्ताधारी दल संयुक्त राष्ट्रीय पार्टी (यूएनपी) के उम्मीदवार प्रेमदासा को अपनी ‘आम आदमी के नेता' वाली छवि पर भरोसा है जो उन्हें उनके पिता से विरासत में मिली है. हालांकि पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे अपने चुनाव प्रचार में प्रेमदासा की पिता की सत्तावादी छवि की भी याद दिला रहे हैं. उनका कहना है कि कोई भी प्रेमदासा के आतंक के राज में नहीं लौटना चाहता.

 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement