Advertisement

Others

  • Apr 21 2017 9:21AM

आतंकी हमला: दो साल में आइएसआइएस ने फ्रांस में 230 लोगों की ली जान

आतंकी हमला: दो साल में आइएसआइएस ने फ्रांस में 230 लोगों की ली जान

पेरिस : फ्रांस की राजधानी पेरिस में एक हथियारबंद शख्स ने पुलिस बस पर हमला कर दिया जिसमें एक पुलिसकर्मी की मौत की खबर है जबकि दो अन्य गंभीर रूप से घायल हुए हैं. यह घटना पेरिस के चैम्प्स एलीसीस की है. इस हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली है. आंकड़ों के अनुसार फ्रांस में वर्ष 2015 के बाद से आतंकवादियों ने कई हमले किये जिनमें 230 लोगों की मौत हुई है.

पेरिस में राष्ट्रपति चुनाव से पहले 'आतंकी हमला', बंदूकधारी ने पुलिस बस को बनाया निशाना

बताया जा रहा है कि पुलिस बस पर हमला ऐसे समय में हुआ है जब कुछ ही दिनों बाद फ्रांस में राष्ट्रपति पद का चुनाव होना है. बंदूकधारी ने कल रात करीब नौ बजे (स्थानीय समयानुसार) पुलिस की एक कार पर स्वचालित हथियारों से गोलीबारी की जिसके बाद पर्यटकों और यात्रियों ने वहां से भाग कर जान बचाने की कोशिश की. पुलिस सूत्रों ने एएफपी को बताया कि अधिकारी की हत्या करने और उसके सहकर्मियों को घायल करने के बाद पुलिस की जवाबी कार्रवाई में बंदूकधारी मारा गया.

आईएस की समाचार एजेंसी अमाक द्वारा प्रकाशित एक बयान में कहा गया, ‘‘मध्य पेरिस के चैम्प्स एलीसीस में हमला करने वाला व्यक्ति बेल्जियम का नागरिक अबु यूसुफ हैं और वह इस्लामिक स्टेट के लडाकों में से एक है.' सूत्रों ने बताया कि हमलावर के बारे में फ्रांस की आतंकवाद रोधी पुलिस जानती थी अैर पेरिस के पूर्व में एक उपनगर में उसके पते पर छापे मारे गए हैं.

‘मुंबई हमलों की तर्ज' पर किए गए थे पेरिस में आतंकवादी हमले : संयुक्त राष्ट्र

पर्यवेक्षक काफी पहले से फ्रांस में रविवार को होने वाले चुनाव से पहले हमले की आशंका जता रहे थे. दशकों में अब तक के सबसे अप्रत्याशित चुनावों में से एक माने जा रहे इस चुनाव के परिणाम पर इसका प्रभाव अस्पष्ट है लेकिन दक्षिणपंथी नेता मारिन ली पेन और कन्जर्वेटिव नेता फ्रांस्वा फिलोन ने आज के लिए अपने प्रचार कार्यक्रम तत्काल रद्द कर दिए. अब तक के चुनाव पूर्व सर्वेक्षणों के अनुसार, मतदाता आतंकवाद या असुरक्षा के बजाए बेरोजगारी और उनकी खर्च करने की क्षमता के बारे में अधिक चिंतित हैं लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि और रक्तपात होने पर मतदाताओं का यह रख बदल सकता है.

फ्रांस आतंकी हमला : ट्रक से आतंकी ने कुचला, 80 की मौत

इस हमले से दो दिन पहले ही दक्षिणी मार्सिले में दो लोगों को हथियार एवं विस्फोटकों के साथ गिरफ्तार किया गया था जिन पर चुनाव प्रचार मुहिम को बाधित करने के लिए हमले की तैयारी करने का संदेह था. फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने एक बार फिर हुए हमले के बाद राष्ट्र को संबोधित करते हुए, ‘‘विशेषकर चुनावी प्रक्रिया के संबंध में अत्यंत सतर्कता' बरतने का वादा किया और पुलिस अधिकारी को श्रद्धांजलि दी. इस बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हमले को लेकर संवेदना प्रकट की और कहा, ‘‘ऐसा प्रतीत होता है कि यह एक अन्य आतंकवादी हमला है. आप क्या कह सकते हैं? यह खत्म ही नहीं हो रहा. हमें मजबूत और सतर्क होना होगा और मैं लंबे समय से यह कह रहा हूं.'

Advertisement
पोल
इस बार गुजरात में किसकी बनेगी सरकार? क्या है आपकी राय बतायें?


View Result
Advertisement

Comments