Advertisement

other state

  • Feb 10 2019 10:21PM

मोदी ने कहा - ईमानदार मुझ पर विश्वास करते हैं, भ्रष्टाचारियों को मुझसे दिक्कत, चिदंबरम 'रिकाउंटिंग मिनिस्टर'

मोदी ने कहा - ईमानदार मुझ पर विश्वास करते हैं, भ्रष्टाचारियों को मुझसे दिक्कत, चिदंबरम 'रिकाउंटिंग मिनिस्टर'

हुबली (कर्नाटक)/तिरुपुर (तमिलनाडु) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि ईमानदार लोग उन पर विश्वास करते हैं और भ्रष्टाचारियों को उनसे समस्या है क्योंकि उन्होंने सुनिश्चित किया कि गरीबों को मिलनेवाला लाभ उन तक सीधा पहुंचे.

मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने दलाली का काम किया वे अब भुगत रहे हैं. उन्होंने यहां एक रैली में कहा, यह प्रधान सेवक, यह चौकीदार सुनिश्चित करता है कि गरीबों के लाभ सीधे उनके खातों में भेजे जायें. इसलिए ईमानदार लोग मुझ पर विश्वास करते हैं, जबकि भ्रष्ट लोगों को समस्या है. रॉबर्ट वाड्रा और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा पहले शायद ही कभी हुआ होगा. दोनों ईडी जैसी जांच एजेंसियों के समक्ष पेश हो रहे हैं. उन्होंने कहा, आप देख रहे हैं कि दिल्ली में क्या हो रहा है. जिनकी आय के बारे में पहले लोग बात करने में डरते थे, वे अब अदालतों और एजेंसियों के समक्ष पेश हो रहे हैं. उन्होंने कहा, ऐसे लोग अपनी घरेलू एवं विदेशी बेनामी संपत्तियों का ब्योरा दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का इस्तेमाल राज्य में गठबंधन की खींचातानी में पंचिंग बैग की तरह किया जा रहा है.

इससे पहले प्रधानमंत्री ने तमिलनाडु के तिरुपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीचिदंबरम पर साफ तौर पर तंज कसते हुए उन्हें संप्रग शासन काल का ‘रिकाउंटिंग मिनिस्टर' और ‘घमंडी' बताया. मोदी ने पांच लाख रुपये तक की आय वालों को कर में छूट देने की अपनी सरकार के कदम का हवाला देते हुए कहा कि यह कदम मध्यम वर्ग की वास्तविक चिंता को दर्शाता है जो कि पूर्व की संप्रग सरकार ने नहीं दिखायी थी. अपने इस कदम के बारे में बात करने के बाद मोदी ने कहा कि वह संप्रग के शासन काल के दौरान राज्य में हुए कुछ वाकयों की याद दिलाना चाहते हैं.

पूर्व वित्त मंत्री का सीधे-सीधे नाम लिये बिना उन्होंने कहा, तमिलनाडु से एक बेहद बुद्धिमान मंत्री हुआ करते थे. आप जानते हैं कि मैं किसकी बात कर रहा हूं.जब लोगों ने जोर से चिल्ला कर हामी भरी तो उन्होंने कहा, सही कहा, पुनर्गणनावाले मंत्री. वर्तमान में राज्यसभा सांसद चिदंबरम ने तमिलनाडु की शिवगंगा सीट से 2009 का लोकसभा चुनाव महज 3,354 मतों के अंतर से जीता था. उस वक्त उनकी जीत को लेकर भ्रम की स्थिति बन गयी थी, क्योंकि चुनाव अधिकारियों ने मतगणना को लेकर हुए विवाद के चलते परिणाम घोषित करने में देरी की थी. तत्कालीन गृह मंत्री चिदंबरम को बाद में अंतिम चरण की गिनती के बाद मतों का मिलान होने पर निर्वाचित घोषित किया गया था.

मोदी ने 2014 के लोकसभा चुनावों के अपने प्रचार के दौरान भी चिदंबरम पर यही तंज कसा था. चिदंबरम के बारे में उन्होंने कहा, वह व्यक्ति जिसे लगता है कि दुनिया का सारा ज्ञान उसके पास है. अपने घमंडी अंदाज में वह कहता है कि मध्यम वर्ग महंगाई को लेकर इतना चिंतित क्यों है जब वह इतनी महंगी आईसक्रीम और मिनरल वॉटर खरीदता है. मोदी ने कहा, श्रीमान रिकाउंटिंग मिनिस्टर, मध्यम वर्ग को आपके एवं कांग्रेस के ताने की जरूरत नहीं है. उन्होंने आपको खारिज किया है और आगे भी वे ऐसा ही करेंगे.

Advertisement

Comments

Advertisement