Advertisement

other state

  • Jun 13 2019 1:35PM
Advertisement

AN-32 क्रैश: मलबे के पास पहुंचा बचाव दल लेकिन कोई जिंदा नहीं मिला

AN-32 क्रैश: मलबे के पास पहुंचा बचाव दल लेकिन कोई जिंदा नहीं मिला
pic taken from Social media

ईटानगर : भारतीय वायुसेना की सर्च टीम आज यानी गुरुवार सुबह AN-32 की क्रैश साइट पर पहुंची और यह जानकारी दी कि विमान में उन्हें कोई जीवित नहीं मिला है. सेना ने विमान में सवार सभी 13 यात्रियों के परिवारों को खबर दे दी है. वायुसेना ने इस हादसे में जान गंवाने वाले सभी यात्रियों को श्रद्धांजलि दी.

यहां आपको बताते चलें कि तीन जून को असम के जोरहाट से उड़ान भरने वाले AN-32 के मलबे के बारे में 11 जून पता चला जो अरुणाचल प्रदेश के टेटो इलाके के मिला था. इसके बाद से ही क्रैश साइट पर पहुंचने का प्रयास लगातार जारी था, लेकिन मौसम खराब होने के कारण सर्च टीम पहुंच नहीं पा रही थी.

बुधवार को 15 पर्वतारोहियों को एमआई-17s और एडवांस लाइट हेलिकॉप्टर (एएलएच) से लिफ्ट करके मलबे वाली जगह के नजदीक तक पहुंचाने का काम किया गया.

जानें कौन-कौन थे सवार
AN-32 क्रैश में विंग कमांडर जीएम चार्ल्स, स्वाड्रन लीडर एच विनोद, फ्लाइट लेफ्टिनेंट आर थापा, फ्लाइट लेफ्टिनेंट ए तंवर, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एस मोहंती, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एम के गर्ग, वॉरेंट ऑफिसर के के मिश्रा, सार्जेंट अनूप कुमार, कॉरपॉरल शेरिन, लीड एयरक्राफ्ट मैन एसके सिंह, लीड एयरक्राफ्ट मैन पंकज, नॉन कॉम्बैट एंप्लॉयी पुताली और नॉन कॉम्बैट एंप्लॉयी राजेश कुमार की  मौत हुई है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement