Advertisement

other state

  • Oct 18 2019 4:49PM
Advertisement

हरियाणा : चुनावी रैली में बोले PM मोदी- कांग्रेस ने चुनाव में पहले ही हार मान ली

हरियाणा : चुनावी रैली में बोले PM मोदी- कांग्रेस ने चुनाव में पहले ही हार मान ली

हिसार (हरियाणा) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि उसने हरियाणा विधानसभा चुनाव में पहले ही हार मान ली है.

मोदी ने शुक्रवार को अपनी दूसरी रैली को संबोधित करते हुए एक कथित वीडियो का भी हवाला दिया जिसमें संसद परिसर में तीन कांग्रेसी नेता चुनावों में पार्टी की संभावनाओं के बारे में चर्चा करते हुए नजर आये हैं. मोदी ने कहा, क्या आपने वायरल हुआ एक वीडियो देखा है जिसमें कांग्रेस के एक नेता संसद परिसर में हरियाणा के एक नेता को आंखे दिखा रहे थे. मैं हैरान रह गया कि हरियाणा के नेता हाथ जोड़े खड़े थे. क्या आपने वीडियो देखा है? क्या आप हरियाणा का अपमान सहन करेंगे. मोदी ने कहा, वीडियो में उनकी बातचीत में यह स्पष्ट था कि वे कह रहे हैं कि बहुत हुआ तो वे 10-15 सीटें जीत लेंगे. ये उनके शब्द हैं और चुनाव के पहले कहा गया है. जिसने पहले ही हार मान ली है और मैदान छोड़ दिया है, वो हरियाणा के लिए कुछ नहीं कर सकते.

मोदी ने दुष्यंत चौटाला के नेतृत्व वाली जननायक जनता पार्टी पर भी हमला करते हुए कहा कि राज्य की जनता ने उसकी राजनीति और नीतियों को खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा, हम अगले पांच सालों में अपनी माताओं और बहनों पर 3.5 लाख करोड़ रुपये की खर्च करने की योजना बना रहे हैं. इसका लाभ यह होगा कि माताओं, बहनों और किसानों को पानी की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा. हमारी यह कोशिश होगी कि कृषि के लिए किसान सिर्फ मौसम के भरोसे ना रहें. प्रधानमंत्री ने कहा कि यह जरूरी है कि हम जल प्रबंधन की पुरानी प्रणालियों को पुनर्जीवित करें जो गांवों में मौजूद थीं. हम ऐसी प्रणाली बनाना चाहते हैं जो घरेलू पानी को रिसाइकिल करने में मदद कर सके और जिसका उपयोग सिंचाई के लिए किया जा सके. मुझे पूरी उम्मीद है कि देश 2024 तक ऐसा करने में सफल होगा.

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि निजी हित जिनके लिए सबसे ऊपर हो क्या वो राष्ट्रहित के बारे में कैसे सोच सकते हैं? भाजपा ने पांच वर्षों में हरियाणा को स्वच्छ और स्थिर सरकार दी है. हिंदुस्तान का मेरा हर भाई-बहन, जब बेटी बचाने की बात आती है तो वो गर्व के साथ कहता है कि हमें हरियाणा से सीखना है. हम आते हैं जनता-जर्नादन का काम करने के लिए और वो आते हैं नये-नये कारनामे करने के लिए. अब हरियाणा को तय करना है कि आपको काम करने वाले लोग चाहिए कि कारनामे करने वाले.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement