Advertisement

nawada

  • Sep 13 2019 7:36AM
Advertisement

सभी धर्मों के लिए कानून एक जैसा : एसडीओ

 नवादा : जिला मुख्यालय में बुधवार को ताजिया पहलाम में डीजे और साउंड बाक्स बजाने को लेकर हुई मनमुटाव के बाद शांतिपूर्ण पर्व सम्पन्न तो करा दिया गया. लेकिन, इस व्यवस्था को आगे भी कायम रखने के लिए सदर एसडीओ अनु कुमार ने ताजियेदारों के साथ गुरुवार को एक बैठक आयोजित की.

 
 उन्होंने इस व्यवस्था के तहत हुई परेशानी पर खेद प्रकट करते हुए कहा कि यह किसी एक धर्म या समुदाय के लिए कानून नहीं बना है, बल्कि सभी के लिए बना है. इसमें सबों का सहयोग की उपेक्षा जिला प्रशासन रखती है. 
 
ताजिएदारों ने शिकायत के लहजे में बताया कि प्रशासन शांति समिति की बैठक कर जन प्रतिनिधियों को ही बुलाते हैं. इसमें ताजियेदारों को भी बुलाया जाना चाहिए. ताकि प्रशासनिक नियमों की जानकारी सभी ताजिएदारों को हो सके. लेकिन, यहां ऐसा नहीं किया जाता है. इससे जानकारी के आभाव में विवाद उत्पन्न हो जाता है. सदर एसडीओ ने बताया ताजिया से पूर्व गणेश पूजा में भी डीजे को लेकर सख्ती बरती जा चुकी है.
 
 इसके बाद आने वाला दुर्गा पूजा में भी ऐसा ही सख्ती बरता जायेगा. इसमें किसी प्रकार का समझौता बर्दाश्त नहीं की जायेगी. लोगों ने ताजिये पहलाम में हुई परेशानी सहित अन्य कई बातों को रखने का काम किया. जिसपर सदर एसडीओ ने आगे से इन सभी बातों पर ख्याल रखने का आश्वासन दिया. 
 
गौरतलब हो कि प्रशासनिक स्तर पर हर साल त्योहारों में ही डीजे को लेकर पूजा समिति व ताजिएदारों के साथ तू-तू-मैं-मैं होती है. लेकिन लगन के दिनों में बजने वाली डीजे और शहर से होकर गुजरने वाली बड़ी वाहनों के तेज हार्न पर कभी कोई कठोर कदम नहीं उठायी है. इससे आम लोगों में असंतोष बनी है. तेज आवाज पर रोक को लेकर पहल होना लोग बेहतर मान रहे हैं, लेकिन यह हर बिंदुओं पर पहल किया जाना जरूरी है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement