Advertisement

national

  • Aug 19 2019 6:39AM
Advertisement

उत्तराखंड में बादल फटा, हिमाचल में बारिश का कहर, बिहार-झारखंड समेत कई राज्यों में अलर्ट, दिल्ली में भी आफत!

उत्तराखंड में बादल फटा, हिमाचल में बारिश का कहर, बिहार-झारखंड समेत कई राज्यों में अलर्ट, दिल्ली में भी आफत!
शिमला/देहरादून : देश के उत्तरी और पहाड़ी राज्यों में बीते तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण जनजीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त है. हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के कारण नदी-नाले उफान पर हैं. रविवार को वर्षाजनित घटनाओं में 23 लोगों की मौत हो गयी, जबकि दर्जनभर लोग घायल हैं. 
 
मंडी जिले में करीब चार महीने पहले बना बेली ब्रिज और सड़क बह गयी है. वहीं, शिमला में भूस्खलन के बाद पांच लोग दब गये, जिन्हें रेस्क्यू किया गया. पुलिस ने बताया कि मृतक की पहचान शाह आलम के तौर पर हुई है, जो बिहार के किशनगंज जिले का रहने वाला था. हिमाचल प्रदेश में स्कूल-कॉलेज बंद कर दिये गये हैं.
 
उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के मोरी ब्लॉक में शनिवार-रविवार की दरम्यानी रात बादल फटने से यमुना की सहायक नदियों में आयी बाढ़ ने कई गांवों में तबाही मचायी. इसमें आराकोट, माकुडी और टिकोची में कई मकान ढह गये.
 
इस घटना में दो लोगों की मौत हो गयी है, जबकि 18 लोग लापता है. बचावकर्मी हेलीकॉप्टर की मदद से फंसे लोगों को बाहर निकाल रहे हैं. इधर, पंजाब में भाखड़ा बांध से पानी छोड़े जाने से चेतावनी जारी की गयी है. दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर बढ़ गया है.
 
हिमाचल : मरने वालों में बिहार के किशनगंज का युवक भी शामिल
 
हिमाचल
 
नैना देवी में 24 घंटे में रिकॉर्ड 360 मिमी बारिश, भूस्खलन से शिमला-कालका के बीच ट्रेन सेवाएं बाधित
पांच नेशनल हाइवे समेत 850 रास्ते बंद
शिमला और कुल्लू में सोमवार को स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे 
लाहौल-स्पीति जिले के केलांग में बर्फबारी, कुल्लू-मनाली में भूस्खलन
उत्तराखंड
उत्तरकाशी में बादल फटने से कई गांवों में मची तबाही, दो की मौत, 18 लापता
सडीआरएफ, पुलिस व आइटीबीपी तथा रेड क्रॉस की टीमें बचाव कार्य में जुटीं
केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री,यमुनोत्री मार्ग पर भूस्खलन से यातायात बाधित
 
हथिनी कुंड से छोड़ा गया पानी, दिल्ली में आ सकती है आफत
 
बारिश से हरियाणा और पंजाब में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गये हैं. हथिनी कुंड बैराज पर यमुना का जलस्तर बढ़कर साढ़े तीन लाख क्यूसेक पहुंच गया है, जो खतरे के निशान से ऊपर है. बैराज से पानी छोड़े जाने से दिल्ली में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो सकते हैं. 
 
बिहार-झारखंड समेत कई राज्यों में अलर्ट : दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड, चंडीगढ़, पश्चिमी यूपी, झारखंड, बंगाल, ओड़िशा, तमिलनाडु, पुडुचेरी, बिहार और छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की आशंका है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement