Advertisement

nalanda

  • Sep 17 2019 6:24AM
Advertisement

शहर पर नजर रखने के लिए लगे हैं 52 सीसीटीवी कैमरे

 बिहारशरीफ:  शहर में अब अपराध कर आसानी से निकल पाना बदमाशों को मुश्किल हो रहा है. कई आपराधिक घटनाओं में संलिप्त रहे बदमाश इन कैमरों की सीसीटीवी फुटेजों के आधार पर पकड़े जा चुके हैं. गुमशुदा या फिर घर से भागे बच्चों की बरामदगी में भी इन कैमरों से पुलिस को सहूलियत हो रही है. 

 
दरअसल, शहर के प्रमुख चौक-चौराहों पर लगे सीसीटीवी कैमरे हर गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं. इन कैमरों की निगरानी के लिए एसपी आवास में एक कंट्रोल सेंटर भी बनाया गया है. सेंटर में चौबीस घंटे तैनात कर्मी सीसीटीवी कैमरे से शहर की हर अप्रिय घटनाओं पर नजर बनाये हुए हैं.
 
शहर में कहां-कहां लगे हैं कैमरे : भरावपर चौराहा, अस्पताल चौराहा, अंबेर चौराहा, सोहसराय चौराहा, देवीसराय चौराहा, राजगीर मोड़ चौराहा, खंदकपर चौराहा, रेलवे स्टेशन चौराहा, पुलपर चौराहा, रामचंद्रपुर मछली मंडी चौराहा, रामचंद्रपुर बस स्टैंड चौराहा, किसानबाग चौराहा, लहेरी थाना तिराहा, मोगल कुआं तिराहा, समाहरणालय गेट, रहुई रोड तिराहा समेत सभी प्रमुख चौक-चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं.
 
एलसीडी की संख्या छह से बढ़ाकर की गयी सात : शहर के प्रमुख चौक-चौराहों पर लगे कुल 52 कैमरों की निगाहबानी के लिए शुरुआत में कुल छह एलसीडी लगाये गये थे. लेकिन, अब इसकी संख्या बढ़ाकर सात कर दी गयी है. भविष्य में कैमरों व एलसीडी की संख्या बढ़ाने के भी संकेत मिले हैं. कंट्रोल सेंटर में कुल दो कर्मी 24 घंटे ड्यूटी बजाते हैं.
 
कई केसों के खुलासे में मिली है सफलता
शहर में 27 जगहों पर 52 सीसीटीवी कैमरे लगे हैं. सभी चालू हालत में हैं. बीते 18 अगस्त, 2017 को यह सभी कैमरे नगर निगम के मद से लगाये गये थे. सीसीटीवी कैमरों की फुटेजों के आधार पर कई आपराधिक मामले के खुलासे में सफलता मिली है.
नीलेश कुमार, पुलिस अधीक्षक, नालंदा
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement