nalanda

  • Nov 10 2019 5:04PM
Advertisement

सेक्स रैकेट का खुलासा, दो युवती व सीआईएसएफ जवान समेत तीन आपत्तिजनक स्थिति में धराये

सेक्स रैकेट का खुलासा, दो युवती व सीआईएसएफ जवान समेत तीन आपत्तिजनक स्थिति में धराये
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहारशरीफ : नगर थाना पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी. नईसराय मुहल्ले के एक घर से सेक्स रैकेट का खुलासा किया. जहां से दो महिला और तीन पुरुष को आपत्तिजनक स्थिति में धर दबोचा, जिसमें एक सीआईएसएफ का जवान शामिल हैं. पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज करायी है. नगर थाना क्षेत्र के नईसराय मुहल्ले के एक घर में सेक्स रैकेट कई दिनों से चल रहा था. इस घर में बाहरी लोगों और लड़कियों का आना-जाना हमेशा से रहता था, जिससे मुहल्लेवासी काफी परेशान थे. समाज पर बुरा असर पड़ने की संभावना हो गयी थी.

मुहल्ले वासियों ने पुलिस निरीक्षक सह नगर थानाध्यक्ष को गुप्त सूचना फोन पर दी. पुलिस निरीक्षक दीपक कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन हुआ जिसमें एसआई शकुंतला कुमारी सहित महिला एवं पुरूष सशस्त्र बल ने शनिवार की रात्रि करीब 9 बजे नईसराय मुहल्ले के राजेन्द्र कुमार के घर में छापेमारी करने पहुंचे. उक्त घर से पुलिस ने तीन युवकों एवं दो युवती को आपत्तिजनक हालत में पाया, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया. जबकि, मौके की नजाकत को देखते हुए मकान मालिक का बेटा मनु कुमार सहित दो भागने में सफल रहा.

पुलिस ने स्थल पर से एक बुलेट मोटरसाइकिल एवं एक मोटर साइकिल जब्त किया है. जबकि, पुलिस ने धंधा चलाने वाले कमरे से कंडोम का 3 पैकेट, दो चिलम, सिगरेट आदि बरामद किया है. पकड़ी गयी दोनों युवती हाजीपुर की रहने वाली है. दोनों ने बताया कि पैसे देने की बात कहकर यहां बुलाया है और गलत काम करने लगा.

थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने बताया कि पकड़े गये तीनों युवक कतरीसराय थाना क्षेत्र के कोयरीविगहा गांव का रहने वाला है, जिसमें सोनू कुमार नामक युवक सीआईएसएफ का जवान है जो कि हैदराबाद में पदस्थापित है. जबकि दो अन्य युवक अविनाश कुमार एवं दशरथ कुमार दोनों छात्र है, जो बिहारशरीफ में ही कोचिंग करता है. उन्होंने बताया कि दशरथ कुमार के पॉकेट से 2400 रुपये, सोनू कुमार के पॉकेट से 5100 रुपये, मैनफोर्स कंपनी का एक पैकेट कंडोम एवं अविनाश कुमार के पॉकेट से 4600 रुपये, बैंक ऑफ इंडिया का एक एटीएम कार्ड, मैनफोर्स कंपनी का तीन पैकेट कंडोम बरामद हुआ. उन्होंने बताया कि पकड़ी गयी दोनों युवतियों ने स्वीकार किया कि गरीबी के कारण पैसे के लोभ में अविनाश कुमार के कहने पर आयी और इस अनैतिक एवं अवैध धंधे में जुड़ गयी.

 

 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement