madhepura

  • Dec 13 2019 8:20AM
Advertisement

शहर में नाबालिग चला रहे बाइक

 मधेपुरा : हाल के दिनों में शहर में घटित हो रही सड़क दुर्घटना के पीछे वैसे तो कई कारण है, लेकिन इनमें से अप्रशिक्षित चालकों द्वारा चलाये जा रहे वाहन अधिक सड़क यातायात नियमों का पालन न करना, नाबालिगों का वाहन चलान, उच्चकों के द्वारा बेतरतीब तरीके से वाहन चलाना सड़क दुर्घटना के कारणों में से एक है. 

 
 शहर में चलने वाली ऑटो, पिकअप, ट्रैक्टर, बाइक व कई छोटी गाड़ियों को चलाने वाले चालकों में ज्यादातर नौसिखिये चालक है. इन चालकों में से करीब आधे के पास ड्राइविंग लाइसेंस है ही नहीं. 
 
इसका नतीजा यह होता है कि नौसिखिये चालक किसी भी दूरी को जल्दबाजी में तय करने के लिए रेस लगाते हैं और दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं. लोगों की माने तो संबंधित पदाधिकारियों के सक्रिय नहीं होने के कारण इनके हौसले और भी बुलंद होते जा रहे हैं. 
 
बेरोकटो सड़कों पर फर्राटा भर रहे युवा: गौरतलब है कि हाल के दिनों में घटित हुई दुर्घटना में कम उम्र के लड़कों की तादाद ज्यादा है. बिना हेलमेट पहने सड़कों पर फर्राटा भर रहे युवा अपने अलावा दूसरों को भी जान जोखिम में डाल रहे हैं. ज्यादातर घटनाओं में तेज रफ्तार वाहन व लहरिया कट के अनियंत्रित होने का मामला अधिक सामने आ रहा है.
 
 युवक शहर में कहीं भी ट्रैफिक व्यवस्था नाम की कोई भी चीज नहीं है. यूं तो ट्रैफिक कंट्रोल के नाम पर कुछ पुलिस के जवानों को प्रतिनियुक्त भले ही कर दी गयी है, लेकिन वे अपने कर्तव्य पर सक्रिय बहुत कम नजर आते है. 
 
कम उम्र के युवक नशे की सेवन करने लगे हैं. इसको लेकर दुर्घटना में बढ़ोतरी हो गयी है. वही कम उम्र में बच्चे को गाड़ी चलाने से मना न ही उनके अभिभावक न ही प्रशासन के द्वारा कोई कार्रवाई की जाती है. जिसको लेकर उन सभी का मनोबल व बढ़ चुका है.
 
13 नवंबर को सदर प्रखंड के तुनियाही वार्ड नंबर दो के निवासी विजेंद्र ऋषिदेव के पुत्र छोटू सड़क दुर्घटना में घायल हो गया था. इलाजरत छोटू ने बताया कि वो सौरबाजार गया हुआ था. लौटने के क्रम में बाइक अयंत्रित हो गयी. 
 
इसके बाद थाना की गश्ती गाड़ी द्वारा उसे किसी प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया गया. जहां से उसके परिजनों को सूचना दी गयी. परिजन पहुंचकर उन्हें वहां से सदर अस्पताल में लाया जहां चिकित्सक द्वारा इलाज करवाया गया. 
 
27 नवंबर को सदर प्रखंड के साहुगढ़ वार्ड नंबर दो के निवासी मनोज यादव के 17 वर्षीय पुत्र लव कुमार सड़क दुर्घटना में जख्मी हो गया. इलाजरत लव कुमार ने बताया बाइक से बाजार आया था. हीरो शोरूम के पास एक बाइक चालक ने धक्का मार दिया, जिससे सिर फट गया.
 
04 दिसंबर को जिले के गम्हरिया प्रखंड के वार्ड नंबर एक निवासी बहादुर पासी के 21 वर्षीय पुत्र राजू कुमार सड़क दुर्घटना में जख्मी हो गया. राजू ने बताया कि बाइक से बाजार जा रहा था. इसी दौरान उनकी बाइक अयंत्रित हो गयी. जिससे वी सड़क पर गिर गये. सड़क पर गिरने से उनकी सिर में गंभीर चोट लगी. 
 
जिसके बाद वहां के स्थानीय लोगों ने उनके परिजनों को फोन करके बुलाया. इसके बाद उनके पिता स्थानीय लोगों की मदद से उन्हें प्राथिमिकी उपचार के लिए सदर अस्पताल में लाया था. सिर पर गंभीर चोट के कारण बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया था.
 
लगातार वाहन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है. खासकर नाबालिगों पर विभाग की नजर है. इसके लिये आमलोगों को भी जागरूक होने की आवश्यकता है. माता पिता भी नाबालिगों को वाहन चलाने से रोके.
 
 नहीं तो नाबालिग को वाहन चलाते समय पकड़े जाने पर उन्हें 25 हजार रुपये का चलान वसूली किया जायेगा या फिर उन्हें तीन महीने का कारावास. सभी लोगों को वाहन चलाते समय हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि घर या कार्यालय में कोई आपका इंतजार कर रहा है. 
राकेश कुमार सिंह, एमवीआइ, मधेपुरा
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement