Advertisement

lucknow

  • Sep 19 2019 5:52PM
Advertisement

योगी सरकार के ढाई साल पूरे, CM ने कहा- उत्तर प्रदेश के प्रति दुनिया का नजरिया बदलना हमारी सबसे बड़ी उपलब्धि

योगी सरकार के ढाई साल पूरे, CM ने कहा- उत्तर प्रदेश के प्रति दुनिया का नजरिया बदलना हमारी सबसे बड़ी उपलब्धि

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के प्रति दुनिया का नजरिया बदलने को अपनी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि करार दिया.

योगी ने अपनी सरकार का ढाई साल का कार्यकाल पूरा होने पर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के प्रति दुनिया का नजरिया पहले बेहद खराब था मगर अब यह पूरी तरह बदल चुका है. यह उनके कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि है. उत्तर प्रदेश को उसकी पहचान वापस दिलाना ‘मील का पत्थर' है. योगी सरकार की उपलब्धियों में से ज्यादातर को अपना बताने वाले सपा अध्यक्ष और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बयान पर योगी ने कहा, अखिलेश की विफलता ही हमारी सफलता है. उनकी नाकामी ही है कि जनता ने उन्हें 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव तथा 2017 के विधानसभा चुनाव में नकार दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि तमाम केंद्रीय योजनाओं पर अमल के मामले में उत्तर प्रदेश पहले और दूसरे स्थान पर है. पर्यटन के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश नंबर एक पर पहुंच चुका है. साथ ही फसल ऋण माफी योजना में भी प्रदेश अव्वल है.

प्रदेश में पहली बार अनाज खरीद की नीति शुरू हुई जिसका लाभ लाखों किसानों को हुआ. उन्होंने दावा किया कि पिछले ढाई साल से प्रदेश कोई दंगा नहीं हुआ और ना ही फिरौती की कोई घटना हुई है. दुर्दांत अपराधी या तो प्रदेश छोड़कर भाग गये हैं या फिर छुपते फिर रहे हैं. अपराधों में व्यापक कमी आयी है. डकैती के मामलों में लगभग 54 प्रतिशत, बलात्कार में 36 फीसदी, हत्या के मामलों में 15 फीसदी, लूट में 43, फिरौती और अपहरण के मामलों में 30 प्रतिशत और बलवा के मामलों में भी 38 प्रतिशत की कमी आयी है. योगी ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा, खासकर बालिका सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए काफी काम किया गया है. अपराधियों को समयबद्ध ढंग से सजा दिलाने की कार्रवाई शुरू हुई. अभियोजन तेज करने, जघन्य मामलों में समय से आरोपपत्र दाखिल करने और प्रभावी पैरवी करके सजा दिलाने के काम में तेजी लायी गयी है.

उन्होंने कहा कि औरैया में अगस्त के पहले सप्ताह में एक नाबालिग बच्ची के साथ बलात्कार की घटना हुई. पुलिस ने 20 दिन के भीतर आरोपपत्र दाखिल किया और सात दिन के भीतर अभियोजन प्रक्रिया पूरी करते हुए अपराधी को आजीवन कारावास की सजा दिलायी गयी. मुख्यमंत्री ने दावा किया कि उनकी सरकार ने कुशल वित्तीय प्रबंधन करते हुए अच्छा-खासा राजस्व भी वसूला है. 2016-17 में वैट और जीएसटी के माध्यम से 51 हजार करोड़ रुपये राजस्व वसूली होती थी. अब यह आंकड़ा 75 हजार करोड़ रुपये को पार कर रहा है. खनन से राजस्व 1,500 करोड़ रुपये से बढ़कर करीब 4,000 करोड़ रुपये हो गया है. योगी ने कहा कि पिछली सरकारों में राजकोषीय घाटा जीडीपी के 3.3 प्रतिशत तक पहुंच गया था, लेकिन हमारी सरकार इसे घटाकर 2.97 प्रतिशत तक लाने में कामयाब रही है. पूर्ववर्ती सरकार के दौरान रेवेन्यू सरप्लस गिर कर 1.6 प्रतिशत रह गया था, लेकिन अब यह 3.2 फीसद हो गया है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश को 5,00,000 करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संकल्प की प्राप्ति में योगदान के लिये उत्तर प्रदेश सरकार ने पांच तरजीही क्षेत्रों का चुनाव किया है. इनमें अवस्थापना सुविधा एवं विकास, औद्योगिक निवेश, कृषि विकास, शहरी विकास और नियोजन तथा मानव संसाधन विकास शामिल हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने पहली ही बैठक में लघु और सीमांत किसानों का कर्ज माफ किया. किसान व गरीब सदैव हमारी सरकार की प्राथमिकता हैं. उन्होंने संवाददाताओं से कहा, प्रदेश में शिक्षा की गुणवत्ता बेहतर बनाने की पहल की जा रही है. हम प्रदेश में एक नयी मेडिकल यूनिवर्सिटी व दो एम्स बना रहे हैं. प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, सौभाग्य योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना आदि को लागू कर सुशासन की नींव रखी गयी.

मुख्यमंत्री ने कहा, शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने की पहल की जा रही है. ढाई वर्ष में बेसिक स्कूलों में 50 लाख नये बच्चे पहुंचे और सभी के लिए स्वेटर, यूनिफार्म, किताबें, खाने आदि का इंतजाम किया गया. आदित्यनाथ ने कहा कि हमने शहरों में 24 घंटे, गांवों में 18 घंटे बिजली दी है, जबकि इससे पहले कोई सरकार यह नहीं कर पायी. उन्होंने कहा कि हमारे ढाई साल के कार्यकाल ने उत्तर प्रदेश से पहचान का संकट खत्म किया है. शासन की विश्वनीयता बढ़ी है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement