Advertisement

lucknow

  • Apr 20 2017 9:55AM

दिव्यांग कर्मचारी पर यूपी के मंत्री ने की अपमानजनक टिप्पणी

दिव्यांग कर्मचारी पर यूपी के मंत्री ने की अपमानजनक टिप्पणी

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक ओर जहां अपने मंत्रियों को आचार संहिता की पाठ पढ़ा रहे हैं. वहीं दूसरी ओर योगी के मंत्री अलग ही तेवर में हैं. योगी के एक मंत्री के बिगड़े बोल मीडिया पर सुर्खियां बटौर रही हैं. योगी सरकार में खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी की एक दिव्यांग के साथ सरेआम बेइज्जती वाली खबर मीडिया में चल रही है.

 

दरअसल पचौरी साफ-सफाई की पड़ताल कर रहे थे और गंदगी पर भड़क गये और आपे से बाहर हो गये और उन्‍होंने जो किया उससे उनकी अब कड़ी निंदा हो रही है. मंत्री ने दिव्यांग के बारे में कहा, लूले-लंगड़े को संविदा पर रखा गया है ये क्या सफाई कर पाएगा, तभी ये हाल है सफाई का.

उत्तर प्रदेश में धार्मिक स्थलों पर पूर्ण शराबबंदी लागू नहीं हुआ, तो लापरवाह अधिकारी होंगे दंडित : योगी

 

 

 

 

गौरतलब हो योगी आदित्यनाथ ने दिव्यांगों को सम्‍मान देने के लिए विभाग का नाम बदलकर दिव्यांगजन जनसशक्तिकरण कर दिया है. मंत्री पचौरी जब विभाग पहुंचे तो उन्होंने सबसे पहले विभाग में साफ-सफाई का जायजा लिया. उसी दौरान दिव्यांग पर उनकी नजर पड़ी. मंत्री ने उससे पूछा, कौन हो. दिव्यांग ने बताया कि वो यहां सफाई कर्मचारी हैं. इसके बाद मंत्री का गुस्सा उसपर फुटा.
 
मंत्री ने विभाग में गंदगी देखकर विभाग के अन्य अधिकारियों को भी डांटा. मंत्री ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जहां एक ओर स्वच्छ भारत अभियान चला रहे हैं और आप सबको सफाई करना नहीं आता है. बहरहाल मंत्री के द्वारा दिव्यांग की बेइज्जती का मामला तूल पकड़ सकता है.

Advertisement

Comments