Advertisement

lucknow

  • Apr 5 2019 12:58PM
Advertisement

बोले PM MODI आतंकियों को पता है वो गलती करेंगे, तो मोदी उन्हें पाताल में भी खोजकर सजा देगा

बोले PM MODI  आतंकियों को पता है वो गलती करेंगे, तो मोदी उन्हें पाताल में भी खोजकर सजा देगा
pic taken from Social media

अमरोहा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के अमरोहा में रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जोरदार हमला किया. उन्होंने कहा कि आतंकियों को उन्हीं की भाषा में जवाब देना, कुछ लोगों को पसंद नहीं आ रहा. जब भारत डंके की चोट पर दुश्मन को मारता है, तब कुछ लोग भारत में रो रहे हैं. जब पाकिस्तान पूरी दुनिया के सामने बेनकाब हो रहा है, तो ये पाकिस्तान के पक्ष की बातें कर रहे हैं, वहां पर हीरो बन रहे हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस हो, समाजवादी पार्टी हो, बहुजन समाज पार्टी हो, आतंकवाद पर नर्म रवैये की वजह से कुछ लोगों के हौसले बुलंद हुए हैं. इन दलों ने सिर्फ आतंक की ही मदद नहीं दी है, इन्होंने आपके जीवन, आपके अस्तित्व को भी संकट में भी डालने का काम किया है. उन्होंने कहा कि उन दिनों को याद कीजिए, जब उत्तर प्रदेश में सपा की सरकार थी, बसपा की सरकार थी, दिल्ली में कांग्रेस की सरकार थी तब क्या होता था. कभी लखनऊ में धमाके होते थे, कभी रामलला की जन्मभूमि अयोध्या में धमाके होते थे, कभी भगवान भोलेनाथ की नगरी काशी को दहला दिया जाता था, कभी रामपुर के CRPF कैंप पर हमला हो जाता था.

आगे प्रधानमंत्री ने कहा कि अक्सर इन हमलों के तार यूपी के अलग-अलग इलाकों तक जाते थे. देश की एजेंसियां बहुत मेहनत से उन हमलों में शामिल लोगों को पकड़ती थीं. लेकिन वोटबैंक की अपनी सियासत की वजह से बुआ-बबुआ की सरकारें उन्हें छोड़ देती थीं. पिछले 5 वर्षों से धमाके रुक गये क्योंकि दिल्ली में आपने साफ नीयत वाला चौकीदार बिठा दिया है. आतंकियों को पता है कि वो एक गलती करेंगे तो मोदी उन्हें पाताल में भी खोजकर सज़ा देगा. मोदी आतंक को वोटबैंक से नहीं तौलता, तभी आतंक के मददगार आज जेल में बंद हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि देश को आगे बढ़ाना है तो हम सब को मिलकर साथ चलना होगा. कुछ लोग हैं जो देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं, अलग-अलग जातियों के नाम पर अलग करने की कोशिश कर रहे हैं. ऐसे लोगों के स्वार्थ को समझिए. सिर्फ एक परिवार की पहचान बनाने के लिए प्रतिष्ठा के लिए, एक परिवार के स्वार्थ की सिद्धि के लिए कांग्रेस ने बाबा साहेब आंबेडकर का भी अपमान किया था. कांग्रेस ने उन्हें चुनाव में हराया था, देश के प्रति बाबा साहेब के योगदान को भुलाने की साजिश रची थी.

आगे उन्होंने कहा कि बाबा साहेब ने उस परिवार को चुनौती थी, इसलिए बाद की पीढ़ियों ने भी बाबा साहेब से निरंतर बदला लिया. वो तो आज वोटबैंक की मजबूरी है, जो कांग्रेस बाबा साहेब का नाम लेती है, वरना ये वही कांग्रेस है जिसने दशकों तक उनकी फोटो तक संसद में लगने नहीं दी थी. उसी दौर में हमारे देश में एक और महान नेता हुए थे जोगेंद्र नाथ मंडल. आपने उनका नाम नहीं सुना क्योंकि आजादी के बाद की कांग्रेस सरकारों ने उनके इतिहास को भी आपके सामने नहीं आने दिया. जोगेंद्र नाथ मंडल, बाबा साहेब के बहुत करीबी साथी थे. कानून के विद्वान थे. लेकिन जिन्ना के बहकावे में आकर, बंटवारे के समय वो पाकिस्तान चले गये थे. वो पाकिस्तान के पहले कानून मंत्री बने, वहां का संविधान बनाने में बड़ी भूमिका निभाई थी, लेकिन इसके बावजूद उनको वहां अपमानित किया गया, एक वर्ग का होने की वजह से उनका जीना मुश्किल कर दिया गया. पाकिस्तान से वापस आने के बाद तब की कांग्रेस सरकार ने उनके साथ और बुरा  किया. अपनी मृत्यु तक वो बहुत ही मुश्किल परिस्थितियों में रहे.

उन्होंने कहा कि बाबू जगजीवन राम अगर आज जीवित होते तो सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक पर कांग्रेस द्वारा सवाल उठाए जाने पर उन्हें कितनी पीड़ा होती. यदि कांग्रेस और महामिलावट वाले जीतते हैं तो बाबूजी के आदर्शों का कभी सम्मान नहीं होगा. वोटबैंक की पॉलिटिक्स ने देश का बहुत नुकसान किया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि याद करिए, पश्चिमी यूपी में पहले गुंडागर्दी की, कानून व्यवस्था की क्या स्थिति थी? समाजवादी पार्टी की सरकार के समय अपराधियों को खुली छूट मिल गयी थी.

पीएम मोदी ने कहा कि ये अमरोहा, ये शामली, पूरा पश्चिमी उत्तर प्रदेश, ऐसा कोई दिन नहीं होता था, जब बेटियों के साथ अत्याचार की, व्यापारियों के साथ लूट-पाट की, वारदातें नहीं होतीं थीं. कितनी ही बेटियों ने इस वजह से स्कूल जाना तक छोड़ दिया था. गुंडागर्दी हो, बिजली की समस्या हो, खराब सड़कें हों, ये एक बड़ा कारण था जिसकी वजह से यहां उद्योग लगाने से लोग डरने लगे थे. इस स्थिति को बदलने के लिए, निवेशकों को विश्वास दिलाने की एक ईमानदार कोशिश की जा रही है.

उन्होंने कहा कि सौभाग्य योजना के तहत यूपी के 77 लाख गरीब परिवारों के घरों तक मुफ्त में बिजली कनेक्शन पहुंचा है, तो अमरोहा और शामली में एक लाख से अधिक गरीब परिवारों को रोशनी मिल चुकी है. कई गांव जो गंगा जी की गोद में बसे थे, वहां खंभे नहीं लग सकते थे, फिर भी सोलर पैनल से बिजली पहुंचाई गयी. पीएम मोदी ने कहा कि कनेक्टिविटी के साथ-साथ बैंकों को छोटे उद्यमियों और युवाओं के लिए बैंकों से ऋण को बहुत आसान कर दिया है. अब तो छोटे उद्यमियों के लिए 1 करोड़ रुपये तक के ऋण की स्वीकृति ऑनलाइन करने की भी व्यस्था हमने की है.

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जवान हों, नौजवान हों या फिर किसान, चौकीदार की सरकार ने हर हित की रक्षा करने का काम किया है. गन्ना किसानों का पैसा उसी सीज़न में चुकाया जाए, इसका गंभीर प्रयास हो रहा है. फसल की लागत का डेढ़ गुणा समर्थन मूल्य देने की बरसों पुरानी मांग को पूरा करने का काम भी भाजपा सरकार ने ही किया है. यूपी के 2 करोड़ से अधिक किसान परिवारों को हज़ारों करोड़ रुपए की सीधी मदद हर वर्ष मिलनी शुरू हुई है.

रैली की शुरूआत में पीएम मोदी ने कहा कि देश भर में जो लहर चल रही है वो लहर आज हमें अमरोहा में भी दिखाई दे रही है. बीते 5 सालों में आप ने इस चौकीदार का साथ दिया, उसके लिए शीश झुका कर धन्यवाद... उन्होंने कहा कि कल ही आपके इस प्रधानसेवक को संयुक्त अरब अमीरात ने वहां का सर्वोच्च नागरिक सम्मान - ज़ायद मेडल देने का ऐलान किया है. मैं यूएई की सरकार और वहां की जनता का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं. ये सम्मान मोदी का नहीं है, बल्कि 130 करोड़ भारतीयों का है, खाड़ी देशों के विकास में योगदान दे रहे लाखों भारतीयों का है.

पीएम मोदी ने कहा कि देश की साख रहे, इसके लिए मजबूत सरकार का होना बहुत जरूरी है. मजबूत सरकार ही कड़े और बड़े फैसले ले पाती है, देश को आगे बढ़ा पाती है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement