Advertisement

lucknow

  • May 24 2019 3:06AM
Advertisement

अटल बिहारी वाजपेयी की विरासत रही कायम

 लखनऊ : लखनऊ लोकसभा सीट पर भाजपा ने लगातार आठवीं बार जीत का सिलसिला जारी रखा़  केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह इस सीट से दूसरी बार सांसद चुन लिये गये. उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी और लालजी टंडन की विरासत को कायम रखा. राजनाथ सिंह ने सपा की उम्मीदवार और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा को 347302 वोटों के भारी अंतर से शिकस्त दी. सिंह को 633026 तथा पूनम सिन्हा को 285724 वोट मिले.  

 
हालांकि यह नतीजा बहुत अप्रत्याशित नहीं कहा जा सकता. कारण कि पूनम सिन्हा को चुनाव के ठीक पहले मैदान में उतारा गया था. राजनीति के क्षेत्र में वह नयी हैं. चुनाव प्रचार के दौरान पूनम इस बात को स्वीकार भी करती रहीं. 
 
हालांकि उनकी जीत को पक्का करने के लिए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से लेकर शत्रुघ्न सिन्हा तक ने अपने हिसाब से पूरी ताकत लगायी थी. इस सीट पर कांग्रेस ने भी उम्मीदवार दिया था और शत्रुघ्न सिन्हा पटना साहिब से कांग्रेस के  उम्मीदवार थे. इसके बावजूद उन्होंने अपनी सपा उम्मीदवार पत्नी के लिए लखनऊ में रोड शो किया था, मगर पूनम सिन्हा राजनाथ सिंह के आगे नहीं टिक सकीं. बहरहाल, 1991 से यह सीट भाजपा के कब्जे में रही है. 
 
1991 से 2004 तक अटल बिहारी वाजपेयी यहां से सांसद चुने गये थे. 2009 में लालजी टंडन को पार्टी ने इस सीट पर उतारा था और वह सांसद चुने गये थे. 2014 में राजनाथ सिंह को पहली बार इस सीट से पार्टी ने चुनाव लड़ाया था. तब राजनाथ सिंह को 5,61,106 (54.23%) वोट मिले थे. उन्होंने कांग्रेस की प्रो रीता बहुगुणा जोशी को 2,72,749 वोटों के अंतर से हराया था. इस बार उन्हें पिछली से ज्यादा वोट मिले. कांग्रेस इस बार तीसरे नंबर पर रही.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement