Advertisement

lucknow

  • Apr 14 2019 2:27PM
Advertisement

शाह का बयान 'मिथ्या' और 'शरारतपूर्ण' : मायावती

शाह का बयान 'मिथ्या' और 'शरारतपूर्ण' : मायावती

लखनऊ: बसपा सुप्रीमो मायावती ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के इस बयान को 'मिथ्या' और 'शरारतपूर्ण' करार दिया कि बसपा चुनाव के समय ही आंबेडकर को याद करती है. मायावती ने ट्वीट कर कहा, ‘‘बीजेपी प्रमुख (अमित) शाह का कहना कि बसपा चुनाव के समय में ही डॉ. आंबेडकर को याद करती है, मिथ्या और शरारतपूर्ण बयान है.' 

उन्होंने कहा कि बसपा बाबा साहेब से दिन-रात साल में 365 दिन प्रेरणा लेकर सर्वसमाज के हित में काम करने वाला आंदोलन है और सरकार में रहकर उनके आदर-सम्मान में ऐतिहासिक काम करती है.

उल्लेखनीय है कि अमित शाह ने शनिवार को चुनावी जनसभा में कहा था, ‘‘जब चुनाव आता है तब बहन जी को आंबेडकर जी याद आते हैं लेकिन चुनाव जीतने पर वह केवल अपनी मूर्तियां ही लगवाती हैं.'

मायावती ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि भाजपा नेताओं ने विकास, कालाधन, भ्रष्टाचार, गरीबी, बेरोजगारी और किसानों आदि को भुलाकर राष्ट्रवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा को इस चुनाव में भुनाना शुरू किया है.

उन्होंने कहा, ‘‘... किन्तु उसमें भी असफल होने पर अब मतदाताओं को उनका काम ना करने की धमकी देना जैसा कि श्रीमती मेनका गांधी द्वारा किया गया, यह अति-निन्दनीय है.' उल्लेखनीय है कि सुल्तानपुर से भाजपा उम्मीदवार केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने मुस्लिम मतदाताओं से हाल ही में कहा कि वे आगामी लोकसभा चुनाव में उनके पक्ष में मतदान करें क्योंकि मुसलमानों को चुनाव के बाद उनकी जरुरत पड़ेगी. 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement