Advertisement

lucknow

  • Sep 20 2019 10:11AM
Advertisement

यौन शोषण मामला: स्वामी चिन्मयानंद गिरफ्तार, कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

यौन शोषण मामला: स्वामी चिन्मयानंद गिरफ्तार, कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

शाहजहांपुर : यौन शोषण मामले में भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद को एसआईटी ने स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर शाहजहांपुर स्थित उनके आश्रम से गिरफ्तार कर लिया है. जानकारी के अनुसार उनको चौक कोतवाली लाया गया है. यहां चर्चा कर दें कि एक लॉ की छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाया है. इस मामले में गुरुवार को एक एसआइटी गठित की गयी थी जिसने आज सुबह स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार किया, जिसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट ने चिन्मयानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

गिरफ्तारी के बाद मेडिकल जांच के लिए स्वामी चिन्मयानंद को अस्पताल ले जाया गया था. उल्लेखनीय है कि चिन्मयानंद की गिरफ्तारी न होने से हताश छात्रा ने आत्मत्या की धमकी दी थी. इससे पहले चिन्मयानंद को डॉक्टरों ने गुरुवार को लखनऊ के केजीएमयू रेफर किया लेकिन वह अपना इलाज आयुर्वेद से कराने की बात कहकर मेडिकल कॉलेज से आश्रम लौट गये थे. चिन्मयानंद को स्वास्थ्य खराब होने के कारण शाहजहांपुर के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था जहां हालत ज्यादा खराब होने के चलते उन्हें डॉक्टरों ने केजीएमसी लखनऊ रेफर कर दिया. परंतु चिन्मयानंद अपना इलाज आयुर्वेद से कराने की बात कहकर मेडिकल कॉलेज से अपने आश्रम लौट आये.

चिन्मयानंद को डायबिटीज, दस्त और हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत

राजकीय मेडिकल कॉलेज की जन संपर्क अधिकारी डॉक्टर पूजा पांडे ने बताया कि चिन्मयानंद को यहां मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था. उनको डायबिटीज, दस्त और हाई ब्लड प्रेशर की दिक्कत थी. उन्होंने बताया कि इसके अलावा उनके हृदय में रक्त की आपूर्ति कम हो रही थी. उनकी आयु 72 वर्ष है, ऐसे में दिल का दौरा पड़ने का भी खतरा है. डॉक्टर पूजा ने बताया कि इसी कारण चिन्मयानंद को केजीएमसी लखनऊ रेफर किया गया.

आयुर्वेद पद्धति से हो रहा था इलाज
दूसरी ओर चिन्मयानंद के अधिवक्ता ओम सिंह ने बताया कि मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों ने चिन्मयानंद को केजीएमसी रेफर किया था लेकिन वह वहां ना जाकर अपने दिव्य धाम वापस आ गये. उनका कहना है कि वह आयुर्वेद पद्धति से अपना इलाज कराएंगे और ठीक हो जाएंगे. अधिवक्ता के मुताबिक आयुर्वेद के डॉक्टर चिन्मयानंद के आवास पर पहुंचे और उनका इलाज शुरू किया.
 

पीड़िता की मां से जुड़े सभी रिकॉर्ड कॉलेज प्राचार्य ने एसआईटी को सौंपे
लॉ की छात्रा के साथ कथित बलात्कार के मामले में चिन्मयानंद के एक इंटर कॉलेज में अध्यापन का कार्य कर रही पीड़िता की मां से जुड़े सभी रिकॉर्ड कॉलेज प्राचार्य ने गुरुवार को विशेष जांच दल (एसआईटी) को सौंपे. मुमुक्षु आश्रम के प्रशासनिक सूत्रों ने बताया कि पीड़िता की मां को मई 2019 में चिन्मयानंद के स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय में बतौर अध्यापक नियुक्त की गयी थी. एसआईटी ने इससे जुड़ी पूरी जानकारी मांगी थी, जो प्राचार्य ने आज उन्हें सौंप दी.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement