Advertisement

Loksabha election 2019

  • Apr 16 2019 2:41PM

पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, यह किस तरह की राजनीति जिसमें ‘मोदी’ नाम वाले हर व्यक्ति को चोर बताया जा रहा

पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, यह किस तरह की राजनीति जिसमें ‘मोदी’ नाम वाले हर व्यक्ति को चोर बताया जा रहा

कोरबा (छत्तीसगढ़) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ के भाटापारा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला और कहा कि वे कहते हैं कि जिसके नाम में भी मोदी जुड़ा है वे चोर हैं. यह किस तरह की राजनीति है? जिसमें पूरे कम्युनिटी को चोर बताया जा रहा है? ऐसा वे सिर्फ इसलिए कह रहे हैं क्योंकि उनका उद्देश्य आपके चौकीदार को बेइज्जत करना है.

मोदी ने अपने भाषण में राहुल गांधी पर हमला किया और कहा कि चुनाव खर्च जुटाने के लिए, कालाधन बनाने के लिए कांग्रेस ने बहुत जुल्म किया है. लेकिन मैं भी चौकीदार हूं, मैं देश को ये भरोसा दिलाता हूं कि गरीब बच्चों के, गर्भवती महिलाओं के गुनाहगारों को सजा दिला के रहूंगा. ये ऐसे लोग हैं जिन्होंने गरीबों के बच्चों को खाना देने के लिए, गर्भवती महिलाओं के पोषण के लिए जो केंद्र सरकार ने पैसे भेजे थे, उसपर भी पंजा मार लिया.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरबा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नक्सलियों का समर्थन करती है उन्हें क्रांतिकारी बताती है. यहां जो नक्सली घटनाएं हो रही हैं, सब कांग्रेस के बढ़ावा देने का ही परिणाम है. पीएम मोदी ने भाजपा नेता भीमा मांडवी के निधन पर शोक जताया और कहा कि जिन लोगों ने नक्सली हमले में अपनी जान गंवाई उन्हें मैं श्रद्धांजलि देता हूं. लेकिन सवाल यह है कि आखिर यह नक्सली हमले क्यों हुए.

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने ऐलान किया कि अगर उसकी सरकार बनी तो वो राष्ट्रद्रोह का कानून समाप्त कर देंगी. कांग्रेस के ढकोसला पत्र से भी नक्सलियों का मनोबल बढ़ रहा है. नक्सलियों और माओवादियों के इन समर्थकों से आपको सावधान रहने की जरूरत है. उन्होंने आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ को फिर से हिंसा के भयानक दौर में धकेलने की साजिश की जा रही है.

कांग्रेस बरसों पहले जमीन से इतना कट चुकी है, कि उसे देश के लोगों की भावनाएं, देश के लोगों की जरूरतें समझ ही नहीं आती. कांग्रेस का पंजा सिर्फ नक्सलियों के साथ ही नहीं बल्कि उन लोगों के साथ भी है जो देश के टुकड़े करना चाहते हैं.  उन्होंने कहा कि  भारत के लाखों जवान जम्मू कश्मीर को आतंक की गहरी साजिशों से बचाने में जुटे हैं, लेकिन कांग्रेस इन्हें प्रश्रय देना चाहती है.

आपत्तिजनक भाषणों के मामले में चुनाव आयोग की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने जताया संतोष

 

Advertisement

Comments

Advertisement