Advertisement

Literature

  • Aug 17 2019 5:41PM
Advertisement

जिंदगी.....

जिंदगी.....

 तुम्हारी यादों के सिवा

 कुछ नहीं....

 चाहता भी नहीं मैं...

 मुझे कुछ और याद भी रहे...

 सिर्फ तुम 

 सिर्फ तुम 

 सिर्फ तुम....

 अनंत काल तक.....

 हर क्षण में.....

 तुम्हारा अहसास ...

 हमेशा मेरे नज़दीक...

 तुम्हारा अस्तित्व ....

 तुम्हारी यादों के सिवा

 कुछ नहीं...

 जिंदगी.....

- शशांक भारद्वाज-

Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement