Advertisement

latehar

  • Aug 21 2019 12:06PM
Advertisement

झारखंड : बेतला के औरंगा नदी में नहाने उतरे दो बच्चे डूबे

झारखंड : बेतला के औरंगा नदी में नहाने उतरे दो बच्चे डूबे

संतोष

बेतला : झारखंड के पलामू प्रमंडल के लातेहार जिला में एक नदी में दो बच्चे बह गये. दोनों बच्चे जब नदी से बाहर नहीं निकले, तो उनके साथ गये तीन बच्चे वहां से भाग गये. बताया गया है कि बरवाडीह थाना क्षेत्र के पलामू किला से सटे असुर बांध के पास बेतला के पांच छात्र औरंगा नदी के किनारे गये थे. इसी दौरान दो बच्चे नहाने उतरे और फिर बाहर नहीं आये. मृत छात्रों की पहचान अब्दुल करीम के पुत्र अकीब रजा (9) व फिरोज अंसारी के पुत्र नजीब हैदर (11) के रूप में हुई है.

इसे भी पढ़ें : पलामू में नक्सलियों के खिलाफ CRPF और पुलिस टीम को बड़ी सफलता, हथियार और वर्दी बरामद

घटना मंगलवार की है. बच्चों के शव बुधवार सुबह बरामद हुए. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण के लिए सदर अस्पताल लातेहार भेज दिया है. बताया जा रहा है कि नजीब हैदर व अकीब रजा अपने अन्य तीन मित्रों के साथ बेतला से करीब तीन किलोमीटर दूर औरंगा नदी के तट पर गये थे.

वहां असुर बांध के पास नजीब व अकीब नहाने के लिए नदी में कूद गये. बाकी तीन बच्चे नदी के बाहर ही खड़े रहे. वे तीनों भी नदी में कूदने ही वाले थे, लेकिन जब कुछ देर तक नजीब और अकीब बाहर नहीं निकले, तो वे वहां से भाग गये.


हालांकि नदी के दूसरी ओर फुलवरिया गांव के कुछ लोगों ने बच्चों को देखा था. जब लोगों ने देखा कि दोनों बच्चे नदी से बाहर नहीं आये, तब बेतला के कुछ लोगों को इसकी सूचना दी. इसके बाद घर वालों ने बच्चों की खोजबीन शुरू की. अकीब व नजीब के साथ गये तीनों लड़कों ने इस घटना की सूचना घरवालों को नहीं दी.

इसे भी पढ़ें : आज इतिहास रचेगा झारखंड, पहली बार महिलाएं बन रहीं मिट्टी की डॉक्टर

दूसरी तरफ, नदी में लापता दोनों बच्चों के परिजन रात भर उनकी तलाश करते रहे. पलामू किला से लेकर केचकी के औरंगा कोयल संगम तक खोजने वाले लोगों का तांता लगा रहा. रात भर खोजबीन के बावजूद उनकी कोई जानकारी नहीं मिली. घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर बुधवार सुबह लोगों ने पानी की सतह पर एक बच्चे का शव देखा. थोड़ी ही दूरी पर दूसरा शव भी दिख गया.

लोगों ने दोनों बच्चों के शव को नदी से बाहर निकाला. इसके बाद दोनों की पहचान हुई. दोनों बच्चों के शव को गांव लाया गया. शवों के गांव पहुंचते ही परिजनों के चीत्कार से पूरा माहौल गमगीन हो गया. घटना की सूचना पर पूर्व विधायक रामचंद्र सिंह, थाना प्रभारी दिनेश कुमार दल बल के साथ पहुंचे.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement