latehar

  • Jul 3 2019 12:48AM
Advertisement

वज्रपात से सात वर्षीय बच्ची की मौत, दो घायल

 महुआ चुनने गये थे बच्चे तभी वज्रपात होने से उसकी चपेट में आ गये

 
मनिका : थाना क्षेत्र के बिचलीदाग गांव निवासी जुगेश्वर सिंह की पुत्री आशा कुमारी (7) की मौत वज्रपात से सोमवार की शाम हो गयी. इस हादसे में आशा का भाई अनुज सिंह (8) और परमेश्वर सिंह का पुत्र निरंजन सिंह (10) गंभीर रूप से घायल हो गया. घायलों को परिजनों ने सदर अस्पताल लातेहार पहुंचाया जहां प्राथमिक इलाज के बाद चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिए रांची रेफर कर दिया.  तीनों बच्चे गांव से कुछ दूरी पर महुआ का डोरी (बीज) चुनने गये थे.
 
इसी दौरान तेज बारिश होने लगी और बारिश से बचने के लिए तीनों बच्चे पेड़ के नीचे दुबक गये. इसी बीच अचानक जोर की आवाज के साथ बिजली गिरी और तीनों को चपेट में ले लिया.  वज्रपात से मौके पर ही आशा की मौत हो गयी, जबकि दोनों बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गये.   आशा का पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया. प्रभावित परिवार ने जिला प्रशासन से मदद की गुहार लगायी है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement