Advertisement

latehar

  • Jun 9 2019 7:08AM
Advertisement

लातेहार : गांव में तीन महीने से नहीं बंट रहा था राशन, यह सत्य है : सरयू राय

लातेहार : गांव में तीन महीने से नहीं बंट रहा था राशन, यह सत्य है : सरयू राय

लातेहार : खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय ने कहा है कि लातेहार जिला प्रशासन द्वारा रामचरण मुंडा की मौत के कारणों को लेकर जो प्राथमिक जांच की गयी है और जो रिपोर्ट मिली है, उससे  मैं संतुष्ट नहीं हूं. ऑफलाइन व ऑनलाइन की गड़बड़ी के कारण तीन माह से लुरगुमी में राशन नहीं बंट रहा था, यह सत्य है. कहां से  लापरवाही हुई, यह जांच का विषय है. 

कहा कि कहीं भी भूख से किसी व्यक्ति की मौत होना शर्मनाक है. इससे राज्य की  बदनामी होती है. श्री राय शनिवार को महुआडांड़ प्रखंड के लुरगुमी कला गांव में 65 वर्षीय रामचरण मुंडा की भूख जनित रोग से हुई मौत के बाद शनिवार को लातेहार पहुंचे थे. 

यहां उपायुक्त से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली. इसके बाद श्री राय पत्रकारों से बात कर रहे थे.

इससे पहले खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय  ने परिसदन भवन में अफसरों के साथ दो घंटे तक की. बैठक में उपायुक्त राजीव कुमार, लातेहार एसडीओ जयप्रकाश झा, आईटीडीए निदेशक विंदेश्वरी ततमा एवं महुआडांड़ प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी धीरू बाखला से मामले की जानकारी ली. जानकारी लेने के बाद श्री राय ने कहा कि ऑनलाइन के बाद भी राशन वितरण के लिए एक अलग फाइल है, उसका भी इस्तेमाल नहीं किया गया.

एेसे लोगों की मदद करने के लिए मुखिया को दस हजार की राशि दी गई है. इन सभी बिंदुओं को दर्शाते हुए विभागीय मापदंड के अनुसार पूरे मामले की जांच करने का आदेश उपायुक्त को दिया है. अगर इसमें किसी प्रकार की लापरवाही पायी गयी तो जो भी जिम्मेवार होगा, उस पर कानूनी कार्रवाई होगी.  

श्री राय ने कहा कि मृतक के परिजनों से बात कर उनकी सहमति से शव का पोस्टमार्टम कराया जायेगा. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद सब स्पष्ट हो जायेगा. मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष लाल अमित नाथ शाहदेव, गणेश प्रसाद, वंशी यादव, आनंद सिंह, मिठ्ठू सिंह, शीला देवी समेत कई लोग उपस्थित थे.

 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement