Advertisement

lakhisarai

  • Aug 24 2019 7:46AM
Advertisement

168 स्टेशनों पर उपलब्ध करायी वाई-फाई सुविधा

 ठाकुरगंज : प्रधानमंत्री की डिजटल इंडिया की पहल को पूरा करने के मद्देनजर रेल मंत्रालय ने पूरे देश के 4791 रेलवे स्टेशनों में मुफ्त वाई-फाई सुविधा उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया है. वहीं इस योजना के तहत पूर्वोतर सीमांत रेलवे ने अब तक 168 स्टेशनों पर वाई-फाई उपलब्ध करवा दिया है. इस बाबत पूर्वोतर सीमांत रेलवे के महाप्रबंधक संजीव रॉय ने बताया कि पूर्वोतर सीमांत रेलवे में 363 स्टेशन पर उपलब्ध करवानी थी.

 
 जिसमें 168 स्टेशन पर उपलब्ध करवा दी गयी है और बांकी के 195 स्टेशनों पर कार्य प्रगति पर है. इस संदर्भ में पूसी रेलवे के प्रधान मुख्य सिगनल एवं दूरसंचार अभियंता सीमर दीक्षित ने कहा कि अब निष्पादन की गति बहुत ज्यादा है और हमलोग लक्षित समय के भीतर 295 स्टेशनों का लक्ष्य पूरा कर लेंगे.
 
अब तक 68 स्टेशन पर थी सुविधा : रेलवे में फ्री वाई फाई सेवा के तहत अब तक पू.सी. रेलवे में पहले चरण में 2016-17 से 2017-18 तक 68 स्टेशनों पर यह सुविधा चालु की गयी थी.  
 
जिसमें  कटिहार मंडल में 22 स्टेशनों, अलीपुरद्वार मंडल में 9 स्टेशनों, रंगिया मंडल में 10 स्टेशनों, लामडिंग मंडल में 17 स्टेशनों और तिनसुकिया मंडल में 10 स्टेशनों में उच्च गति वाई-फाई प्रदान किया गया था. अगले चरण में इस वर्ष के भीतर एक और 295 स्टेशनों को वाई-फाई सेवा देने का लक्ष्य रखा गया है, जो पूसी रेलवे के हर स्टेशनों (हॉल्ट स्टेशनों को छोड़कर) को वाई-फाई हॉटस्पॉट बनाएगा. 
 
उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधा उपलब्ध करवा रहा है रेलटेल 
रेलटेल का खुदरा ब्रॉडबैंड वितरण मॉडल ’रेलवायर’ के द्वारा उपयोगकर्ताओं को सर्वश्रेष्ठ इंटरनेट अनुभव के तहत यात्रियों को वाई-फाई सेवाएं प्रदान की जा रही है. रेलवायरवाई-फाई किसी भी उपयोगकर्ता के लिए उपलब्ध होता है जिसके पास स्मार्टफोन पर काम करने वाला मोबाइल कनेक्शन है. 
 
कैसे काम करता है स्टेशनों पर यह नेटवर्क
 वाई-फाई का उपयोग करने के लिए उपयोगकर्ता को स्मार्टफ़ोन के वाई-फाई मोड पर जाना होगा और रेल वायर वाई-फाई नेटवर्क का चयन करना होगा. स्मार्टफ़ोन पर स्वचालित रूप से रेल वायर मुखपृष्ठ नेटवर्क दिखाई देने के बाद, उपयोगकर्ता को इस मुखपृष्ठ पर अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा. 
 
उपयोगकर्ता को संदेश बॉक्स में एसएमएस के रूप में वन-टाइम पासवर्ड (ओटीपी) मिलेगा जो रेल वायर  के होम पेज में दर्ज करना होगा. ओटीपी दर्ज करने के बाद उपयोगकर्ता हाई स्पीड इंटरनेट का उपयोग कर पाएंगे और इंटरनेट ब्राउज़िंग शुरू कर सकेंगे.
 
नौ राज्यों में फैला है पूर्वोतर सीमांत रेलवे
पूसी रेलवे 9 राज्यों  की सीमा में सक्रिय है. जिसमें 07 उत्तर-पूर्वी राज्यों और 02 पूर्वी भारत के राज्यों अर्थात बिहार और पश्चिम बंगाल में सेवाएं प्रदान करता है. पहले चरण में पूसी रेलवे के क्षेत्राधिकार के अंतर्गत सभी ए1, ए, बी, डी श्रेणी के स्टेशनों को चरण 1 में वाई-फाई सुविधा के साथ समेट लिया गया था.  अधिकांश जिला मुख्यालयों के रेलवे स्टेशन पर  वाई-फाई नेटवर्क  यात्रियों को उपलब्ध करवाया गया था. इस वर्ष पूसी रेलवे के 295 स्टेशनों पर यह सेवा चालू की जायेगी.
 
 जिसमें कटिहार मंडल के 54 स्टेशनों, अलीपुरद्वार मंडल के 55 स्टेशनों, रंगिया मंडल के 64 स्टेशनों, लामडिंग मंडल के 87 स्टेशनों और तिनसुकिया मंडल के 35 स्टेशन शामिल है. यह सेवा मेसर्स टाटा ट्रस्ट द्वारा कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व योजना अंतर्गत वाई-फाई प्रदान किया जाएगा. एक्सेस प्वाइंटों को चालू करने के लिए आर्किटेक्चर को रेलटेल द्वारा निष्पादित किया जा रहा है और शीघ्र ही वाई-फाई प्रतिस्थापित और चालू हो जायेगा. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement