lakhisarai

  • Dec 10 2019 9:03PM
Advertisement

पति की प्रताड़ना से तंग आकर महिला अपनी मासूम बच्ची संग करने जा रही थी आत्महत्या, तभी...

पति की प्रताड़ना से तंग आकर महिला अपनी मासूम बच्ची संग करने जा रही थी आत्महत्या, तभी...
सदर अस्पताल में घायल प्रियंका का इलाज करते चिकित्सक व कर्मी, अस्पताल में मौजूद घायल बच्ची

लखीसराय : 'जाको राखे साइंया मार सके न कोई' वाली कहावत मंगलवार को लखीसराय स्थित रेलवे पुल के नीचे देखने को मिली. जहां पति की प्रताड़ना से तंग आकर एक महिला ने अपनी एक वर्षीय दुधमुंहे बच्ची के साथ आत्महत्या करने की नियत से लखीसराय में रेलवे पुल पर ट्रेन के आगे रेल पटरी पर जा रही थी कि उसका पैर फिसला गया और महिला बच्ची समेत रेलवे पुल से नीचे बीच सड़क पर जा गिरी. जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गयी.

इसी दौरान वहां से गुजर रहे एसडीपीओ रंजन कुमार एवं डीसीएलआर नीरज कुमार ने त्वरित कार्रवाई करते हुए सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया, जहां से चिकित्सकों ने दोनों का प्राथमिक उपचार करने के उपरांत महिला की स्थिति की गंभीरता को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया है. मिली जानकारी के अनुसार हलसी थाना क्षेत्र के महुअड़ी निवासी विकास कुमार की पत्नी प्रियंका देवी अपनी पति की प्रताड़ना से तंग आकर अपनी व अपनी बच्ची की इहलीला को समाप्त करना चाह रही थी.

सदर अस्पताल में इलाज के दौरान घायल प्रियंका देवी ने बताया कि उसके पति उसे चार वर्षों से प्रताड़ित कर रहे हैं तथा मारपीट करते हैं. उसने बताया कि दो दिन पूर्व ही पति द्वारा उसके साथ काफी मारपीट की गयी थी. जिससे तंग आकर वह अपनी बच्ची के साथ जान देने के लिए रेलवे पुल पर ट्रेन के आगे जाने वाली थी कि वह गिर पड़ी. सदर अस्पताल कर्मी के द्वारा जब पीड़िता के पति को फोन किया गया तो उसने पत्नी के घायल होने की थोड़ी सी भी नहीं जतायी.

वहीं, घटना की जानकारी होते ही प्रियंका के मायके वाले तथा गांव के अन्य लोग सदर अस्पताल पहुंचे तथा उसका हाल चाल जाना. जिन्हें चिकित्सक ने बताया कि महिला के कुल्हे एवं पैर में काफी चोटें आयी है. शरीर के अन्य हिस्सों का एक्स-रे करने के बाद ही पता चल सकेगा. उधर, इस संबंध में एसडीपीओ रंजन कुमार ने बताया कि महिला के बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की जायेगी.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement