kodarma

  • Dec 11 2019 8:22AM
Advertisement

चंदवारा :इलाज के अभाव में पारा शिक्षक की मौत

चंदवारा :इलाज के अभाव में पारा शिक्षक की मौत
छह महीने से नहीं मिला मानदेय, खराब थी आर्थिक हालत
चंदवारा : प्रखंड के उत्क्रमित मवि खांडी में कार्यरत पारा शिक्षक 45 वर्षीय अलखदेव पासवान की मंगलवार की सुबह करीब 10 बजे हृदय गति रुकने से मौत हो गयी. अलखदेव करीब छह दिन से बीमार थे. परिजनों के अनुसार छह माह से मानदेय नहीं मिलने की वजह से पैसे के अभाव में उनका सही इलाज नहीं हो रहा था. दवा भी बंद हो गयी थी. ऐसे में वे असमय काल का ग्रास बन गये. विस चुनाव को लेकर भी उनकी ड्यूटी लगी थी. अचानक निधन होने से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. जानकारी के अनुसार अलखदेव पहले से बीमार चल रहे थे. 
 
चुनाव में ड्यूटी लगने के बाद अधिक तबीयत बिगड़ने पर वे प्रशासन के पास फरियाद लेकर भी पहुंचे थे. उन्होंने चुनावी ड्यूटी से खुद को अलग करने की मांग की थी. इस बीच मंगलवार को उनका निधन हो गया. स्थानीय मुक्तिधाम में उनका अंतिम संस्कार किया गया. निधन की खबर सुन कर पारा शिक्षक संघ के नेताओं व शिक्षा विभाग के पदाधिकारियों ने उनके घर पहुंच कर परिजनों से शोक संवेदना जतायी. पारा शिक्षक संघ के प्रखंड अध्यक्ष सुखदेव राणा ने बताया कि लगातार कई माह से मानदेय नहीं मिलने से अधिकतर पारा शिक्षकों के सामने संकट की स्थिति है. 
 
अलखदेव बीमार चल रहे थे. उन्हें बेहतर इलाज की जरूरत थी, पर किसी तरह इलाज करवा रहे थे. उनका निधन होना दुखद है. मृतक की पत्नी मंजू देवी ने बताया कि पैसे के अभाव में दवा बंद हो गयी थी. निधन की सूचना पाकर पारा शिक्षक संघ के जिला कार्यकारिणी सदस्य सुभाष सिंह, प्रखंड महासचिव शंभु यादव, मनोज कुमार, राम वचन पंडित, कपिलदेव पांडेय, आलोक कपूर, सिकंदर शर्मा, खूब लाल यादव सहित अन्य ने संवेदना जतायी.सुदामा पांडेय, भोला यादव के अलावा प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी अरुण कुमार, बीपीओ प्रभु देव यादव पहुंच व संवेदना जतायी.
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement