Advertisement

kodarma

  • Feb 13 2019 12:28AM
Advertisement

जनमुद्दों को उठा भाजपा को निशाने पर लिया

 गुजरात व महाराष्ट्र के बड़े व्यापारियों को मदद पहुंचा रही है रघुवर सरकार

मरकच्चो : संघर्ष यात्रा के चौथे चरण में डोमचांच प्रखंड के फुलवरिया पहुंचे हेमंत सोरेन ने सभा के दौरान जहां जनता से जुड़े सवालों को उठाया, वहीं राज्य व केंद्र की भाजपा सरकार को सीधे निशाने पर लिया. उच्च विद्यालय फुलवरिया के मैदान में आयोजित सभा में हेमंत ने कहा कि यह यात्रा राज्य की दशा व दिशा तय करेगी. भाजपा झारखंड के आदिवासियों व  मूलवासियों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है.
 
दर्जनों लोग भूख से मौत को गले लगा रहे है, वहीं किसान आत्महत्या कर रहे हैं. दूसरी ओर सैकड़ों टन अनाज गोदामों में सड़ता रहा. हेमंत ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के सरकारी विद्यालयों को एक ओर सरकार बंद करा रही है, वहीं दूसरी ओर पारा शिक्षकों को प्रताड़ित करने का काम किया जा रहा है.
 
पारा शिक्षकों के आंदोलन में 50 से अधिक जान चली गयी. आंगनबाड़ी सेविकाएं मानदेय बढ़ाने की मांग करती है, तो उन्हें लाठियां मिलती है. कोडरमा जिले का ढिबरा, पत्थर खदान, क्रशर उद्योग बंद होने के कगार है, पर सरकार गुजरात व महाराष्ट्र के बड़े व्यापारियों को मदद पहुंचा कर यहां लाना चाहती है.
 
सोरेन ने कहा कि झारखंड में सबसे अधिक भाजपा का शासन रहा, पर शिक्षा व स्वास्थ्य की व्यवस्था खराब है. ग्रामीण स्कूलों को बंद किया जा रहा है और जो भी स्कूल बचेंगे, उसे आरएसएस व भाजपा के लोग चलायेंगे. इन स्कूलों में हिंदू-मुस्लिम का पाठ पढ़ाया जायेगा व  घृणा का भाव डालने का काम किया जायेगा.
 
इससे पूर्व कार्यकर्ताओं ने 51 किलो की माला पहनाकर सोरेन का स्वागत किया. उच्च विद्यालय की छात्राओं ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया. इससे पूर्व सोमवार की रात हेमंत ने कोडरमा स्थित परिसदन में रात्रि विश्राम किये. मंगलवार की सुबह कोडरमा बाजार में उन्होंने रोड शो भी किया. सभा को कई वक्ताओं ने संबोधित किया.
 
वक्ताओं ने क्षेत्र की मूलभूत समस्या शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क की ओर सोरेन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए सबसे बड़ी आर्थिक समस्या ढिबरा, पत्थर खदान व क्रशरों के संचालन में रोड़े आ रही कानून पर हस्तक्षेप की मांग रखी. सभा को वरीय नेता गोपाल यादव, जिलाध्यक्ष श्याम किशोर सिंह, पिंटू यादव, बैजनाथ मेहता, रवींद्र शांडिल्य, तारणी प्रसाद, लक्ष्मण मेहता, गोपी यादव, रामचंद्र सिंह, संजय पांडेय, सत्यदेव राय, घनश्याम सिंह घटवार, मो अशरफ, एय्याज अहमद, रामेश्वर मुर्मू, बैजनाथ मेहता, नरेश राय, नंद किशोर मेहता, अर्जुन महतो, अशोक वर्णवाल आदि ने भी संबोधित किया. मौके पर महावीर राणा, पवन माइकल कुजूर, संजय साजन, महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष निर्मला तिवारी, सावित्री देवी, चंपा देवी, रेखा विश्वकर्मा, पार्वती देवी, मो जावेद, बीरेंद्र यादव, सुरेश दयाल, मो इकबाल आदि मौजूद थे.
 
पूर्व जिप अध्यक्ष महेश राय झामुमो में शामिल 
 
कार्यक्रम के दौरान पूर्व जिप अध्यक्ष महेश राय अपने समर्थकों के साथ झामुमो में शामिल हुए. पूर्व मुख्यमंत्री ने माला पहनाकर पार्टी में उनका स्वागत किया. इस दौरान महेश राय ने कहा कि झामुमो उनका पुराना घर है. उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री को जिले की मूलभूत समस्याओं के अलावा ढिबरा, पत्थर खदान व क्रशर व्यवसाय में आ रही परेशानियों से अवगत कराया. ज्ञात हो कि महेश राय इससे पूर्व भी झामुमो में थे और विधानसभा चुनाव भी लड़ा था. हालांकि, पिछले विधानसभा चुनाव में उन्होंने भाजपा प्रत्याशी व वर्तमान में शिक्षा मंत्री डाॅ नीरा यादव को समर्थन दिया था.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement