Advertisement

kodarma

  • Jan 9 2019 7:45PM

कोडरमा : छात्रा की दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका, आक्रोशित ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

कोडरमा : छात्रा की दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका, आक्रोशित ग्रामीणों ने किया सड़क जाम
photo pk

कोडरमा : मरकच्चो थाना क्षेत्र की दसवीं कक्षा की नाबालिग छात्रा का शव बुधवार को एक खेत में बरामद होने के बाद गांव में आक्रोश फैल गया. बताया जा रहा है कि 17 साल की नाबालिग की निर्मम तरीके से हत्या कर शव को फेंक दिया गया था.

 

आशंका जताई जा रही है कि अपराधियों ने पहले दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया, फिर नाबालिग को मौत के घाट उतार दिया. हत्या की इस घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी है और लोग विरोध में सड़क पर उतर आये. 

ग्रामिणों ने पुलिस कार्रवाई पर भी सवाल उठाया और आरोप लगाया कि लड़की के लापता होने के बाद पुलिस ने तुरंत सनहा दर्ज कर जांच शुरू क्‍यों नहीं की. लोगों ने सड़क जाम कर थाना प्रभारी के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया. 

बाद में एसपी ने लोगों को समझाबुझाकर शांत किया. जानकारी के अनुसार कक्षा 10वीं की छात्रा सोमवार को उत्क्रमित उच्च विद्यालय सिमरिया पढ़ने गई थी. देर शाम तक घर नहीं लौटने पर परिजनों ने खोजबीन की, परंतु पता नहीं चलने पर छात्रा के पिता ने सोमवार शाम को ही इसकी मौखिक सूचना मरकच्चो पुलिस को दी. 

पुलिस ने छात्रा का फोटो व आवेदन के साथ परिजन को मंगलवार की सुबह थाना पर बुलाया. पिता आवेदन व फोटो लेकर थाना पहुंचे, लेकिन थाना प्रभारी के नहीं होने का हवाला देकर शाम में बुलाया गया और आवेदन स्‍विकार किया गया.

इधर बुधवार की सुबह मृत छात्रा के भाई के ससुराल से सूचना आयी कि बच्ची का शव विद्यालय जाने के रास्ते में एक खेत में पड़ा हुआ है. सूचना पर जब परिजन वहां पहुंचे तो देखा कि छात्रा का क्षत विक्षत शव पड़ा हुआ है.

शव के कई हिस्सों को जंगली जानवर व कुत्तों ने नोच खाया था. शव मिलने की खबर सुनते ही घटनास्थल पर सैकड़ों ग्रामीण जुट गए. इसके बाद मौके पर इंस्पेक्टर राजवल्लभ पासवान, थाना प्रभारी राजीव प्रकाश व पुलिस बल पहुंचे. 

पुलिस ने शव को कब्जे में लेने का प्रयास किया, पर जिप सदस्य राजकुमार यादव, कैलाश यादव, मुखिया सुरेन्द्र यादव व आक्रोशित ग्रामीणों ने शव उठाने नहीं दिया और घटनास्थल पर वरीय पदाधिकारी को बुलाने की मांग करने लगे. 

स्थानीय पुलिस की लापरवाही व कार्यशैली का विरोध करते हुए ग्रामीणों ने कोडरमा कोवाड मुख्य मार्ग को सुबह में एक घंटे जाम कर दिया. सूचना मिलने पर एसपी डा. एम तमिल वाणन घटना स्थल पर पहुंच व पूरे मामले की जानकारी ली. 

एसपी के घटनास्थल पर पहुंचते ही ग्रामीणों ने स्वतः सड़क जाम हटा लिया. घटनास्थल पर प्रदेश राजद अध्यक्ष सह पूर्व मंत्री अन्नपूर्णा देवी, राजधनवार के माले विधायक राजकुमार यादव, जिप अध्यक्ष शालिनी गुप्ता भी पहुंचे. जनप्रतिनिधियों ने एक स्वर में घटना के लिए स्थानीय थाना प्रभारी को जिम्मेदार ठहराते हुए थानेदार पर कार्रवाई की मांग की. 

* एसआईटी गठित, जल्द होगा खुलासा : एसपी

एसपी डा. एम तमिल वाणन ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला दुष्कर्म कर हत्या का प्रतीत हो रहा है. आशंका यह भी है कि दुष्कर्म का विरोध करने पर छात्रा की हत्या की गई हो. विस्तृत जानकारी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सामने आएगी. 

उन्होंने बताया कि मामले के उद्भेदन के लिए एसडीपीओ ओम प्रकाश के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है. जल्द ही पूरे मामले का खुलासा होगा. ग्रामीणों को उन्होंने आठ दिनों के अंदर घटना का उद्भेदन कर लेने का आश्वासन दिया. साथ ही स्कूल आने जाने के रास्तों पर पुलिस गश्ती कराने के अलावा मोबाइल जवानों को भी गश्ती में रखे जाने की बात कही.

Advertisement

Comments

Other Story

Advertisement