Advertisement

kaimur

  • Aug 27 2019 7:30AM
Advertisement

लोक शिकायत निवारण के दौरान उपस्थित नहीं होना पड़ा महंगा

 भभुआ नगर : समाहरणालय के सभाकक्ष में सोमवार को लोक शिकायत निवारण के मामले को ले सभी लोग प्राधिकार के अधिकारियों के साथ प्रभारी जिलाधिकारी सुमन कुमार  ने बैठक की. इसमें कम लोक प्राधिकारों उपस्थित होने पर प्रभारी डीएम भड़क उठे एवं नाराजगी जतायी.

 
 साथ ही अगले बैठक में सभी लोग प्राधिकार को उपस्थित रहने का निर्देश दिया गया. वहीं, समीक्षा बैठक के दौरान दोनों अनुमंडल के अनुमंडल लोक शिकायत पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि समय से अधिकारियों को उपस्थित नहीं होने पर मामले लंबित हो जा रहे हैं. 
 
वहीं भभुआ अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि लोक शिकायत निवारण मामले में चांद प्रखंड की स्थिति काफी खराब है. लोक शिकायत से जुड़े मामले में चांद के प्रखंड विकास पदाधिकारी अंचलाधिकारी व बाल विकास पदाधिकारी द्वारा समय से उपस्थित नहीं होने पर मामला लंबित हो जा रहा है. इस पर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों से 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण मांग करने का निर्देश दिया.
 
 
भभुआ प्रखंड में लंबित हैं 18 मामले 
 
अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी मधुकांत द्वारा बताया गया कि सबसे ज्यादा 18 मामले लंबित भभुआ प्रखंड में हैं. भभुआ के बीडीओ द्वारा लोक शिकायत से संबंधित मामले की सुनवाई के दौरान न ही उपस्थित होते हैं और न ही किसी प्रतिनिधि को भेजते हैं. इस कारण मामले की सुनवाई लंबित पड़ा हुआ है.
 
 इस पर संज्ञान लेते हुए प्रभारी जिलाधिकारी ने भभुआ बीडीओ से स्पष्टीकरण का मांग करने का निर्देश दिया. साथ ही समीक्षा बैठक के दौरान प्रभारी जिलाधिकारी ने कहा कि लोक शिकायत निवारण मामले लंबित रहने पर वहां के अधिकारी बख्शे नहीं जायेंगे. 
 
क्योंकि, प्रत्येक माह के दूसरे मंगलवार को आयुक्त पटना प्रमंडल द्वारा लोक शिकायत से जुड़े लंबित मामलों का समीक्षा की जाती है. जिन अधिकारी का मामला पांच से ज्यादा लंबित रहेगा तो संबंधित अधिकारी आयुक्त के समीक्षा बैठक में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखने के लिए तैयार रहें. बैठक में जिला लोक जन शिकायत पदाधिकारी अरविंद कुमार सिंह, मोहनिया अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी जिला आपूर्ति पदाधिकारी पीके झा सहित कई अधिकारी मौजूद थे.
 
थानेदार के उपस्थित नहीं रहने पर डीएम ने एसपी को लिखा पत्र
भभुआ नगर. प्रभारी डीएम के समीक्षा बैठक के दौरान मामला सामने आया कि लोक शिकायत निवारण मामले की सुनवाई में थाना से संबंधित ज्यादा मामला लंबित है. 
 
थानेदारों को नोटिस देने के बाद भी वे समय से लोक शिकायत निवारण कार्यालय में उपस्थित नहीं होते हैं. इसके चलते थाना से संबंधित मामला लंबित पड़ा हुआ है. इस पर संज्ञान लेते हुए प्रभारी जिलाधिकारी ने कहा कि पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर अवगत कराया जायेगा कि लोक शिकायत निवारण मामला का निबटारा 60 दिनों के अंदर करना है. लेकिन, सुनवाई के दौरान समय से थानेदार उपस्थित नहीं होने के कारण मामला लंबित रह जा रही है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement