Advertisement

jamshedpur

  • Apr 11 2019 8:39AM
Advertisement

जमशेदपुर : आप प्रत्याशी दिनेश महताे फंसे स्टिंग में, 30 लाख रुपये मांगे

जमशेदपुर : जमशेदपुर लाेकसभा से आप (आम आदमी पार्टी) के अधिकृत प्रत्याशी दिनेश महताे स्टिंग अॉपरेशन का शिकार हाे गये हैं. अॉडियाे में वे किसी से 30 लाख रुपये की धनराशि की मांग करते हुए सुने जा रहे हैं.
 
दिनेश महताे अॉडियाे क्लिप में एक पार्टी के प्रत्याशी के वाेट काटने के समर्थन में बात करते हुए साैदा करते हुए बात कर रहे हैं. बातचीत में तय हाेता है कि उन्हें एक खास क्षेत्र में उन्हें प्रचार अभियान चलाना है. इसके एवज में उन्हें 50 लाख रुपये मिलेंगे. यदि वह इस कार्य के लिए तैयार हाेते हैं ताे उन्हें 25 लाख पहले आैर 25 लाख बाद में मिलेंगे. इस पर दिनेश महताे तैयार हाे जाते हैं अाैर कहते हैं कि उन्हें 25 में पांच आैर बढ़ा कर 30 कर दिये जाये. 
 
यह अॉडियाे क्लिप पार्टी के रांची कार्यालय काे किसी ने मुहैया कराया. इसके बाद उसकी जांच की गयी, जिसमें उनकी आवाज की पुष्टि भी हुई. जांच कमिटी की रिपोर्ट आने तक दिनेश महतो को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है. इसकी सूचना केंद्रीय टीम को दे दी गयी है. रिपाेर्ट आने के बाद उन्हें पार्टी से बाहर का भी रास्ता दिखा दिया जायेगा. आप के प्रदेश सचिव राजन कुमार सिंह ने कहा कि आप उम्मीदवार दिनेश महतो का स्टिंग ऑपरेशन में एक आपत्तिजनक ऑडियो क्लिप प्रदेश कार्यालय रांची को बुधवार काे प्राप्त हुआ है. 
 
प्रारंभिक जांच में ऐसा प्रतीत होता है कि ऑडियो में आवाज दिनेश महतो की ही है. फिर भी इसके सभी पहलुओं की जांच के लिए प्रदेश संयोजक जयशंकर चौधरी द्वारा टीम गठित की गयी है. इस पूरे प्रकरण से प्रदेश की ईकाई स्तब्ध और आक्रोशित है. 
पूरी पार्टी के लिए यह अविश्वश्नीय एवं कल्पना से परे है कि पांच साल से संगठन के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी के रूप में कार्य कर रहे दिनेश महतो पैसों के लालच में आ जायेंगे और विपक्षी को सहयोग करने के साजिश में शामिल हो जायेंगे. 
 
यदि इस ऑडियो क्लिप में सत्यता होगी तो पार्टी के साथ इससे बड़ा धोखा नहीं हो सकता. पार्टी के साथ साथ दिनेश महतो ने जमशेदपुर एवं झारखंड की जनता के साथ भी धोखाधड़ी की है. पार्टी यह बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी. जांच में सत्यता पाये जाने पर प्रदेश समिति द्वारा पार्टी के पॉलिटिकल अफेयर्स कमिटी (पीएसी) से तत्काल उनके उम्मीदवारी वापसी एवं पार्टी से निष्कासन की अनुशंसा की जायेगी. इसके अलावा उन पर कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है.
 
आप नेता दिनेश महताे ने कहा कि प्रदेश सचिव राजन सिंह टिकट सिंबल देने के नाम पर लगातार 35 लाख रुपये की मांग कर रहे थे. 35 लाख रुपये नहीं देने पर सिंबल नहीं दे रहे थे. 
 
अरविंद केजरीवाल ने 13 दिन पहले ही सिंबल-टिकट प्रदान करदिया था. इसलिए अॉडियाे क्लिप के माध्यम से झूठा प्रचार किया जा रहा है. उन्हें पार्टी के प्रदेश कार्यालय से फाेन कर बताया गया कि उन्हें निलंबित कर दिया गया है. पार्टी का टिकट नहीं भी मिला ताे वे निर्दलीय लड़ेंगे.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement