Advertisement

Industry

  • Dec 2 2019 9:00PM
Advertisement

Telecom Miniter रविशंकर प्रसाद ने कहा, भारत में मोबाइल इंटरनेट की रेट दुनिया में सबसे कम

Telecom Miniter रविशंकर प्रसाद ने कहा, भारत में मोबाइल इंटरनेट की रेट दुनिया में सबसे कम

नयी दिल्ली : दूरसंचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने सोमवार को कहा कि देश में मोबाइल इंटरनेट की दरें दुनिया के देशों के मुकाबले काफी कम है. देश की शीर्ष मोबाइल फोन सेवा प्रदाता कंपनियों के कॉल और डेटा शुल्क में वृद्धि की घोषणा के एक दिन बाद उन्होंने यह बात कही. भारती एयरटेल लिमिटेड, वोडाफोन आइडिया लिमिटेड और रिलायंस जियो इन्फोकॉम ने रविवार को मोबाइल दरें बढ़ाने की घोषणा की है. बढ़ी हुई योजना की दरें मंगलवार से प्रभाव में आयेंगी.

प्रसाद ने ट्विटर पर लिखा है कि देश में मोबाइल इंटरनेट की प्रति जीबी दर दुनिया के अन्य देशों के मुकाबले काफी कम है. दुनिया में मोबाइल डेटा प्लान की तुलना करने वाली ब्रिटेन की एचटीटीपी: //केबल डॉट को डाट इन (http://cable.co.uk) से यह पता चलता है. उन्होंने कीमत तुलना करने वाली साइट के मार्च 2019 में जारी चार्ट को भी पोस्ट किया है. उनके अनुसार, देश में एक गीगाबाइट (जीबी) डाटा की लागत 0.26 डॉलर है, जबकि ब्रिटेन में यह 6.66 डॉलर और अमेरिका में 12.37 डॉलर है.

वेबसाइट 230 देशों में मोबाइल डाटा शुल्क की तुलना करती है. यह आंकड़ा मार्च, 2019 का है, जिसे प्रसाद ने सोमवार को पोस्ट किया. एक जीबी डेटा का वैश्विक औसत मूल्य 8.53 डॉलर है. दूरसंचार मंत्री ने एक और ट्वीट में कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार को यूपीए सरकार से विरासत में उच्च लागत वाला मोबाइल इंटरनेट मिला था. वर्ष 2014 में यह 268.97 रुपये प्रति जीबी था.

ट्राई के अनुसार, अब यह 11.78 रुपये प्रति जीबी है. भारती एयरटेल ने तीन दिसंबर से 41 फीसदी वृद्धि की घोषणा की है, जबकि रिलायंस जियो ने छह दिसंबर से 40 फीसदी की बढ़ोतरी की घोषणा की है. वोडाफोन-आइडिया की बढ़ोतरी भी तीन दिसंबर से प्रभाव में आयेगी.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement