Advertisement

Industry

  • Dec 12 2017 7:37PM

बुधवार को फिक्की की सालाना बैठक में उद्योगपतियों को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

बुधवार को फिक्की की सालाना बैठक में उद्योगपतियों को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को यहां प्रमुख वाणिज्य एवं उद्योग मंडल फिक्की की सालाना आम बैठक में देश के शीर्ष उद्योगपतियों को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री बनने के बाद देश के किसी उद्योग मंडल की सालाना बैठक में यह उनका पहला भाषण होगा. फिक्की ने कहा है कि सालाना आम बैठक का उद्घाटन करने के बाद मोदी फिक्की के सभी पूर्व अध्यक्षों के साथ बातचीत करेंगे.

इसे भी पढ़ेंः प्रधानमंत्री कल उद्योगपतियों से मिलेंगे,चीन की अर्थव्यवस्था में नरमी को लेकर होगी चर्चा

फिक्की की 13-14 दिसंबर को होने वाली 90वीं वार्षिक आम बैठक के मौके पर उसके मौजूदा अध्यक्ष पंकज पटेल (जायडस केडिला के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक) का कार्यकाल समाप्त हो जायेगा और उनके स्थान पर एडेलवेइस समूह के चेयरमैन एवं सीईओ राशेस शाह फिक्की अध्यक्ष का कार्यभार संभालेंगे. उद्योग मंडल की नये भारत में भारतीय उद्यमी विषय पर आयोजित इस बैठक को 14 दिसंबर को वित्त मंत्री अरुण जेटल और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी संबोधित करेंगी.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी सम्मेलन के एक विशेष सत्र को संबोधित करेंगे. सालाना आम बैठक को चार राज्यों के वित्त मंत्री भी संबोधित करेंगे. इनमें बिहार के उप-मुख्यमंत्री एवं वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी, पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा, केरल के वित्त मंत्री थामस आईजैक और जम्मू कश्मीर के वित्त मंत्री हसीब द्राबू शामिल हैं. राज्यों के वित्त मंत्री माल एवं सेवाकर (जीएसटी) पर अपनी बात रखेंगे.

देश में जीएसटी व्यवस्था एक जुलाई से लागू हुई है. फिक्की ने यहां जारी वक्तव्य में कहा है कि वह देश का सबसे पुराना उद्योग मंडल है, जिसकी सदस्यता अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में फैली है. महात्मा गांधी के कहने पर उद्योगपति घनश्याम दास बिड़ला और जेआरडी टाटा ने 1927 में फिक्की की शुरुआत की थी.

Advertisement

Comments