Advertisement

hazaribagh

  • Aug 20 2019 2:27AM
Advertisement

जहां यात्री शेड हैं, वहां खड़े रहते हैं वाहन

हजारीबाग : हजारीबाग शहर के अधिकांश चौराहों व मुख्य मार्गों के यात्री शेड जर्जर व गायब हो गये हैं.  बारिश होने पर शहर में कहीं भी सिर छुपा कर बारिश से बच नहीं सकते है. यात्री, रिक्शा व टेंपो चालकों के लिए बने शेड का नगर निगम द्वारा कोई रखरखाव नहीं किया गया. शहर में कांग्रेस ऑफिस चौक, कोल टैक्स चौक, कचहरी चौक, इंद्रपुरी चौक, कोर्रा चौक, मेन रोड, डिस्ट्रिक बोर्ड चौक समेत कई स्थानों पर यात्री शेड बने थे, लेकिन वर्तमान में वे सभी गायब है. लोगों ने अतिक्रमण या निजी इस्तेमाल के लिए इसे हटा दिया है. अगर जहां शेड मौजूद भी है, तो वहां वाहन व मवेशी खड़ा रहते हैं.  

 
चौपारण : प्रखंड में छोटी गाड़ियां हर चौक-चौराहों पर खड़ी होती है. यात्री सड़क के किनारे खड़े होकर गाड़ियों का इंतजार करते है. यात्रियों के बैठने के लिए यात्री शेड नहीं है. यात्री शेड नहीं रहने से परेशानी होती है. खासकर बरसात व गर्मी के दिनों में. सवारी बसें सड़क पर खड़े यात्रियों जहां-तहां से खड़ा कर बैठाती है. इस क्रम में कई बार घटना भी घट चुकी है.
 
कटकमसांडी: कटकमसांडी-कटकमदाग प्रखंड क्षेत्र में बस व टैक्सी स्टैंड में यात्री शेड नहीं है. शेड नहीं रहने से लोगों को परेशानी होती है. बरसात में दुकान के आसपास बस व टैक्सी के इंतजार में लोगों को खड़ा रहना पड़ता है. जरूरतमंद यात्री पानी में भींग-भींग कर गाड़ी का इंतजार करते है. कटकमसांडी चौक, बहिमर चौक, सुल्ताना चौक पर दूर-दराज की गाड़ियां रुकती है. दूर-दराज से आने-जाने वाले लोगों को ठहरने, पेयजल व शौचालय की कोई व्यवस्था नहीं है. 
 
विष्णुगढ़ : विष्णुगढ़ में बस स्टैंड में शेड नहीं है. इसके अलावा विष्णुगढ़ अखाड़ा चौक, टैक्सी स्टैंड यात्री शेड नहीं है. बनासो में यात्री शेड पर रखरखाव के अभाव में यात्रियों को सुविधा नहीं मिल रही है. स्थानीय लोगों ने कई बार यात्री शेड निर्माण कराने की मांग की, पर अभी तक शेड का निर्माण नहीं हो पाया है. यात्री शेड नहीं होने से यात्रियों को खुले आसमान के नीचे खड़ा होकर बस का इंतजार करना पड़ता है. विष्णुगढ़ सात माइल मोड़ पर बस पकड़ने के लिए लोग दूर-दराज से आते है.
 
दारू : एनएच-100 स्थित दारू, झुमरा चौक पर यात्रियों के लिए शेड की व्यवस्था नहीं है. इन चौक पर प्रत्येक दिन सैकड़ों यात्री एक स्थान से दूसरे स्थान पर यात्रा करते है. धूप व बरसात में खुले आसमान के नीचे वाहनों का इंतजार करते है. 
 
चलकुशा : चलकुशा प्रखंड में एक भी यात्री शेड नहीं है. बरकट्ठा, चौबे स्टेशन, प्रखंड मुख्यालय व एनएच-दो तक जानेवाले यात्री सड़क के किनारे गाड़ियों का इंतजार करते रहते है. 
 
केरेडारी : केरेडारी प्रखंड में यात्री शेड नहीं है. इस मार्ग से बहुत कम यात्री वाहन चलते हैं. इससे यात्रियों को एक-दो घंटे तक बरसात व धूप में सवारी वाहनों का इंतजार करना पड़ता है. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement