Advertisement

hazaribagh

  • Jun 20 2019 1:14AM
Advertisement

पार्क के फूल मुरझाये, टूट गये बच्चों के झूले

 10 मार्च 2017 को किया गया  था इसका उद्घाटन

पार्क का लोहे का  मेन गेट क्षतिग्रस्त, चहारदीवारी भी दो जगह से टूटी

मवेशी पार्क के अंदर घुस कर  करते रहते हैं विचरण 

दोनों फव्वारा खराब, गर्मी में नहीं मिल रहा लोगों का आनंद
 
बरही : बरही स्थित एपीजे अब्दुल कलाम पार्क की दशा बिगड़ गयी है. पार्क के बने दो साल, तीन महीने हुए है.  इसका उद्घाटन 10 मार्च 2017 को हुआ था. इतनी जल्दी इस पार्क की दशा खराब हो जायेगी, यह किसी ने सोचा नहीं था. पार्क में लगे तरह-तरह के फूल व पौधे मुरझा गये हैं. मध्य हिस्से में लगायी गयी घास भी नहीं बची है.
 
हेजिंग नहीं होने से सारे हेझ बेतरतीब बढ़ कर झाड़ियों में तब्दील हो गये है. पूरे पार्क में जगह-जगह सूखे पत्तों का ढेर लगा है. पार्क का लोहे का  मेन गेट क्षतिग्रस्त हो गया है. पार्क की चहारदीवारी दो जगह टूटी हुई है, जिसके चलते मवेशी पार्क के अंदर घुस कर विचरण करते रहते है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement