Advertisement

gumla

  • Jul 15 2019 7:50PM
Advertisement

हैदराबाद व रांची से गुमला की नौ नाबालिग लड़कियों का रेस्क्यू, सीडब्ल्यूसी के संरक्षण में पहुंची गुमला

हैदराबाद व रांची से गुमला की नौ नाबालिग लड़कियों का रेस्क्यू, सीडब्ल्यूसी के संरक्षण में पहुंची गुमला

जगरनाथ, गुमला 

हैदराबाद से रेस्क्यू में बरामद चार नाबालिग लड़कियां और दिल्ली जाने के दौरान रांची रेलवे स्टेशन से पांच नाबालिग लड़कियों को सीडब्ल्यूसी (जिला बाल कल्याण समिति) गुमला ने अपने संरक्षण में ले लिया है. गुमला जिला के घाघरा थाना क्षेत्र की दो लड़कियां और चैनपुर व रायडीह थाना क्षेत्र की एक-एक लड़की तस्करी का शिकार होने के बाद हैदराबाद में फंसी हुई थीं. 

 

घाघरा की दो लड़कियां पिछले पांच महीने और चैनपुर व रायडीह की लड़की पिछले एक-एक माह से तस्करी का शिकार होकर हैदराबाद में एक ही घर पर काम कर रही थी. जिसे हैदराबाद की पुलिस ने रेस्क्यु कर सकुशल बरामद किया. लड़कियों ने बताया कि हैदराबाद में वे सभी एक ही घर पर काम करती थी. परंतु काम करने के एवज में कभी पैसा नहीं मिला. 

 

इसी प्रकार घाघरा व बिशुनपुर थाना क्षेत्र की दो-दो नाबालिग और कामडारा थाना क्षेत्र की एक नाबालिग लड़की को दिल्ली जाने के दौरान रांची रेलवे स्टेशन से रेलवे चाइल्ड लाइन की टीम ने पकड़ा. सभी नाबालिगों को जिला बाल संरक्षण इकाई गुमला, चाइल्ड लाइन व अहतु थाना गुमला के सहयोग से सीडब्ल्यूसी को सौंपा गया है. 

 

सीडब्ल्यूसी के अध्यक्ष शंभु सिंह ने बताया कि घाघरा की दो नाबालिग पांच माह और चैनपुर व रायडीह थाना क्षेत्र की एक-एक नाबालिग एक-एक माह से हैदराबाद में फंसी हुई थीं. मामले में कुछ दिनों पूर्व एक नाबालिग के परिजनों ने शिकायत दर्ज करायी थी. शिकायत के आलोक में हैदराबाद पुलिस से संपर्क किया. एक नाबालिग की सूचना पर पहुंची पुलिस ने वहां से चार नाबालिगों को बरामद किया. 

 

इसी प्रकार दिल्ली जाने के दौरान रांची के रेलवे स्टेशन से रेलवे चाइल्ड लाइन की टीम ने अलग-अलग दिन में पांच नाबालिगों को पकड़ा. फिलहाल सभी सीडब्ल्यूसी के संरक्षण में हैं. सभी नाबालिगों को ज्ञानाश्रय में रखा जायेगा. कागजी कार्रवाई करने के बाद सभी नाबालिगों का पुनर्वास करेंगे.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement