Advertisement

gopalgunj

  • Oct 14 2019 12:50AM
Advertisement

रसोइयों ने सरकार के निर्णय पर जताया आक्रोश, प्रदर्शन

 कुचायकोट : बीआरसी के समीप स्थित हड़ताली पीपल के पास राष्ट्रीय मध्याह्न भोजन रसोइया फ्रंट के बैनर तले रसोइयों ने रविवार को विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शन कर रहे रसोइयों का आरोप था कि सरकार रसोइयों को रसोई के कार्य से वंचित करने की तैयारी कर रही है.

 सरकार रसोइयों को हटाकर एनजीओ को एमडीएम पहुंचाने व बनाने की जिम्मेदारी सौंप दी है. रसोइया को केवल मानदेय देना व एनजीओ के तहत एमडीएम पहुंचाना यह गलत है. विरोध प्रदर्शन की अध्यक्षता कर रहे  नंदलाल पंडित ने कहा कि थावे प्रखंड के 47 स्कूलों में एनजीओ से खाना बनवाया जा रहा है.  
 
वहां खाना समय से नहीं पहुंच रहा है. यह नियम जिला प्रशासन के शर्मनाक रवैया का प्रतीक है. रसोइया फ्रंट के सदस्य डॉ नागेंद्र प्रसाद ने रसोइयों को संबोधित करते हुए कहा कि नियम के अनुसार बच्चों को गर्म व ताजा खाना खिलाना है. यह तभी संभव है जब खाना स्कूल के किचन में रसोइयों के हाथों बनाया जाये. 
 
विरोध प्रदर्शन के दौरान फ्रंट के नेताओं ने आगामी 29 अक्तूबर को पटना के गांधी मैदान में होनेवाले मुख्यमंत्री के समक्ष धरना-प्रदर्शन में अधिक से अधिक रसोइयों के शामिल करने की अपील की. मौके पर ज्योतिष तिवारी, अभय प्रताप पटेल, मधु साह, टुनटुन साह, गीता देवी, जगदीश साह, राजेश्वर सिंह, विश्वकर्मा पांडे, सुनील गोंड, श्याम बिहारी,  रामप्रवेश ठाकुर आदि थे.
 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement