gaya

  • Aug 23 2019 7:53AM
Advertisement

हत्या के विरोध में सड़क जाम, लाठीचार्ज व रोड़ेबाजी

 गया  : टनकुप्पा थाना क्षेत्र में फतेहपुर-गया रोड में पथरा मोड़ पर मिले दो युवकों के शवों की पहचान कर ली गयी है. दोनों युवक विष्णुपद थाना क्षेत्र के रहनेवाले थे. एक चांदचौरा के रहनेवाले (पैत्रिक मुहल्ला खटकाचक) दूध व्यापारी राजू यादव के 23 वर्षीय बेटे राहुल कुमार व दूसरा चांदचौरा के ही रहनेवाले पूर्व ब्लॉक कर्मी तारकेश्वर सिंह के 22 वर्षीय बेटा आकाश कुमार उर्फ बिट्ठल थे. 

 
पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपे जाने के बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. आक्रोशित लोगों ने शव के साथ चांदचौरा मोड़ को जाम कर आगजनी की. पुलिस समझाने पहुंची और लोगों को हटाने के लिए लाठी भांजने लगी. 
 
पुलिस के लाठी चलाते ही लोगों ने विरोध में  रोड़ेबाजी कर दी. रोड़ेबाजी व लाठीचार्ज में स्थानीय लोग व पुलिसकर्मी घायल हुए हैं.  बाद में सिटी डीएसपी राजकुमार साह व सदर एसडीओ सत्येंद्र प्रसाद ने गिरफ्तारी का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया. लोगों का आरोप था कि दोनों का अपहरण कर हत्या कर दी गयी औरसबूत मिटाने के लिए ही शव को फतेहपुर रोड में फेंक दिया गया. 
 
दोनों जिस बाइक से थे उसे शव वाले जगह पर इस तरह से रखा गया कि जैसे एक्सीडेंट हुआ हो. लेकिन, परिजनों ने बताया कि दोनों की गला दबा कर हत्या किये जाने का निशान साफ दिख रहा था. देर शाम तक चांदचौरा रोड जाम रहने के कारण गया-बोधगया रोड में गाड़ियों की लंबी कतार लग गयी. पुलिस के लाख समझाने के बाद भी लोग हत्यारे की गिरफ्तारी की मांग को लेकर अड़े हुए थे. 
 
दो माह पहले ही हुई थी राहुल की शादी 
राहुल के परिजनों ने बताया कि दो माह पहले ही उसकी शादी फतेहपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में बड़े धूम-घाम से की गयी थी. राहुल की पत्नी कंचन कुमारी की अब तक हाथ की मेहंदी भी नहीं मिटी थी कि उसके पति की मौत की खबर उसके पास पहुंच गयी. मौत की खबर पहुंचते ही दोनों युवकों के घरों में कोहराम मच गया. सुबह से शाम तक पूरे मुहल्ले में रोने-बिलखने की आवाज से लोगों का कलेजा कांपता रहा. 
 
हत्यारे को बख्शा नहीं जायेगा
सिटी डीएसपी राजकुमार साह ने कहा कि हत्या के विरोध में लोगों ने चांदचौरा में रोड जाम किया था. लोगों को समझाकर जाम हटवा लिया गया है. दाह-संस्कार के बाद परिजन का बयान दर्ज कर हत्यारे की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जायेगी. उन्होंने कहा कि दोनों युवक रहनेवाले शहर के हैं. 
 
हत्या कर फेंका गया है फतेहपुर में. इसलिए इतनी लंबी दूरी तक गहनता से सीसीटीवी फुटेज व अन्य आधार से सही जानकारी जुटाने का प्रयास शुरू कर दिया गया है. सिटी डीएसपी ने कहा कि किसी भी हाल में हत्यारे को बख्शा नहीं जायेगा. पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए हर जरूरी कदम उठाये जायेंगे. 
 
एक के परिजन ने श्मशान घाट की लड़ाई, तो दूसरे ने जमीन विवाद को वजह बताया  
मृतक आकाश कुमार उर्फ बिट्ठल की मां ने बताया कि बहुत दिनों से गेवाल बिगहा के रहनेवाले एक लड़के से विवाद चल रहा था. उसी लड़के ने समझौता के लिए उनके लड़के को फोन कर बुलाया.  फोन आने के बाद उनका बेटा राहुल को लेकर गया. 
 
लेकिन, वह वापस नहीं लौटा. इधर, राहुल के पिता राजू यादव ने बताया कि उनके ही परिवार से खटकाचक में एक जमीन को लेकर विवाद चल रहा था. पहले उनके लड़के की गाड़ी की चोरी कर ली. 
 
परिवार का सदस्य जान कर पुलिस को उसका नाम नहीं दिया. 26 जुलाई को खटकाचक के दीपू यादव व अन्य पर कोर्ट में सूचनात्मक आवेदन दिया था. बुधवार की शाम उनके लड़के ने फोन पर बताया था वह बाइपास के पास है. लेकिन, रात भर वह नहीं आया और सुबह उसकी हत्या की खबर मिली. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement