Advertisement

garhwa

  • Apr 25 2019 12:57AM
Advertisement

गढ़वा में बिजली संकट गहरायी पेयजल और गर्मी से लोग परेशान

गढ़वा : गढ़वा में बिजली की लगातार अनियमितता के कारण उपभोक्ताओं की समस्या बढ़ गयी है़  गर्मी में बिजली नहीं रहने के कारण शहरी क्षेत्र में पेयजल की संकट उत्पन्न हो गयी है. वहीं भीषण गर्मी में लोगों का जीना मुहाल हो गया है़  शहर के रांकी मोहल्ला के ट्रांसफॉर्मर जल जाने के कारण पिछले एक सप्ताह से मुहल्ले में पेयजल की गंभीर संकट उत्पन्न हो गयी है. समाचार के अनुसार सोननगर से बिजली की आपूर्ति बहाल होने के बाद भी गढ़वा में बिजली की समस्या से लोगों को निजात नहीं मिल सकी है.

 
गढ़वा को 40 मेगावाट बिजली की वर्तमान में जरूरत है. लेकिन मिल रहा है मात्र आठ मेगावाट. इससे संकट गहरा गया है़ विदित हो कि एक सप्ताह पूर्व सोननगर से आपूर्ति ठप होने के कारण बिजली की आपूर्ति में बाधा उत्पन्न हुआ था. लेकिन वहां से आपूर्ति बहाल होने के बाद भी गढ़वा को जरूररत के अनुसार बिजली नहीं मिलने से परेशानी बढ़ी है़ 
 
एक सप्ताह से अंधेरे में है रांकी मोहल्ला:  गढ़वा नगर परिषद क्षेत्र के रांकी मोहल्ला सहित बाजार क्षेत्र में  पिछले एकसप्ताह से ब्लैक आउट है. वार्ड नंबर  15,16 के  रॉकी मोहल्ला, संघत मुहल्ला, बाजार क्षेत्र, चमर टोली आदि मुहल्ला में पानी के लिए लोगों में त्राहिमाम मचा हुआ है. गर्मी से लोग परेशान हैं.
 
मोहल्ले वासियों के बार बार लिखित एवं मौखिक शिकायत के बावजूद विभाग की नींद नहीं खुल रही है. यहां तक की अब तक कोई भी जनप्रतिनिधि एवं नेताओं ने इस समस्या की समाधान के लिए कोई पहल नहीं किया है.  मोहल्ले वासियों के अनुसार इस मोहल्ला का ट्रांसफार्मर पर अधिक लोड होने के कारण बार-बार जल जाता है. इसकी जानकारी होने के बावजूद विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जाती है. पिछले छह दिनों से यहां ब्लैक आउट है.
 
इस भीषण गर्मी में लोगों का जीना मुश्किल हो गया है. जबकि पानी के लिए लोग दूसरे जगहों से लोग साइकिल, ठेला,रिक्शा आदि से पानी लाने को विवश हैं. मोहल्ले वासियों ने चंदा इकट्ठा कर विभाग में ट्रांसफॉर्मर के लिए पैसा भी जमा किया है. बावजूद विभाग के अधिकारियों ने अब तक कोई सुधि नहीं लिया है. मोहल्ले वासियों ने बताया कि यदि अगले 24 घंटे के अंदर मोहल्ला में बिजली की समस्या दूर नहीं हुई, तो वे लोग उग्र आंदोलन करने को बाध्य होंगे.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement