Economy

  • Jan 14 2020 10:09PM
Advertisement

भारत-चीन के व्यापार में 2019 के दौरान दर्ज की गयी 3 अरब डॉलर की गिरावट

भारत-चीन के व्यापार में 2019 के दौरान दर्ज की गयी 3 अरब डॉलर की गिरावट

बीजिंग : भारत-चीन के बीच व्यापार एक साल पहले की तुलना में करीब 3 अरब डॉलर कम रहा. दोनों देशों में आर्थिक नरमी से व्यापार प्रभावित हुआ है. व्यापार में गिरावट के बावजूद वर्ष 2019 में चीन के साथ भारत का व्यापार घाटा (चीन को निर्यात की तुलना में वहां से आयात का आधिक्य) 56.77 अरब डॉलर के साथ ऊंचा बना रहा.

चीन के सीमा शुल्क सामान्य विभाग (जीएसीसी) के मंगलवार को जारी आंकड़े के अनुसार, भारत के साथ व्यापार में चीनी मुद्रा-आरएमबी-युआन के हिसाब से 1.6 फीसदी की हल्की वृद्धि हुई है, जबकि डॉलर के हिसाब से व्यापार 3 अरब डॉलर घटा है. जीएसीसी के उप-मंत्री जोऊ झिवु ने कहा कि चीन-भारत का द्विपक्षीय व्यापार पिछले साल 639.52 अरब युआन (करीब 92.68 अरब डॉलर) रहा. यह सालाना आधार पर 1.6 फीसदी अधिक है.

चीन का भारत को निर्यात पिछले साल 2.1 फीसदी बढ़कर 515.63 अरब युआन रहा, जबकि भारत का चीन को निर्यात 0.2 फीसदी घटकर 123.89 अरब युआन रहा. भारत का व्यापार घाटा 2019 में 391.74 अरब युआन रहा. हालांकि, डॉलर के संदर्भ में दोनों देशों के बीच व्यापार कम हुआ है.

वर्ष 2018 में द्विपक्षीय व्यापार 95.7 अरब डॉलर था. 2019 में इसके 100 अरब डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद थी, यह 3 अरब डॉलर कम होकर 92.68 अरब डॉलर रहा. वर्ष 2019 में चीन से भारत को निर्यात 74.72 अरब डॉलर रहा. 2018 में चीन ने भारत को 76.87 अरब डॉलर का निर्यात किया था.

इसी दौरान भारत का चीन को निर्यात घटकर 17.95 अरब डॉलर के बराबर रहा. यह इससे पिछले वर्ष 18.83 अरब डॉलर था. वर्ष 2019 में चीन के साथ भारत का व्यापार घाटा 56.77 अरब डॉलर रहा. यह 2018 में 58.04 अरब डॉलर था.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement