Advertisement

Economy

  • Sep 11 2019 9:00PM
Advertisement

HMSI ने कहा, अर्थव्यवस्था में सुस्ती टू व्हीलर की बिक्री में गिरावट की सबसे बड़ी वजह

HMSI ने कहा, अर्थव्यवस्था में सुस्ती टू व्हीलर की बिक्री में गिरावट की सबसे बड़ी वजह

नयी दिल्ली : देश में दोपहिया वाहनों की बिक्री में गिरावट की एक बड़ी वजह अर्थव्यवस्था की सुस्ती है. होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (एचएमएसआई) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक मिनोरु कातो ने बुधवार को यह बात कही. कातो ने कहा कि अगले साल से भारत चरण छह उत्सर्जन मानक लागू होने के बाद वाहनों के दाम और बढ़ेंगे. इससे उद्योग के लिए चुनौती भी बढ़ेगी.

इसे भी देखें : राज्य में हर दिन 885 दोपहिया, 38 तीन पहिया व 112 काराें की बिक्री वर्ष 2015-16 में खरीदे गये 4.03 लाख वाहन

कातो ने कहा कि सितंबर, 2018 से बीमा प्रीमियम में हुई बढ़ोतरी, उपभोक्ताओं का वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) में कटौती का इंतजार और भारत चरण चार के वाहनों में भारी छूट की उम्मीद ऐसे अन्य कारण हैं, जिनकी वजह से वाहनों की बिक्री घट रही है. कातो ने यहां एचएमएसआई का पहला भारत चरण- छह मानक वाला मॉडल एक्टिवा-125 स्कूटर पेश किये जाने के मौके पर संवाददाताओं से कहा कि उद्योग उम्मीद कर रहा था कि जब उपभोक्ता बीमा प्रीमियम में बढ़ोतरी के फायदे के बारे में जान जायेंगे, तो बिक्री में सुधार होगा. उन्होंने कहा कि अब उपभोक्ता जीएसटी में कटौती का इंतजार कर रहे हैं. भारतीय अर्थव्यवस्था में सुस्ती की वजह से भी मांग घटी है. कंपनी के भारत चरण छह मानक वाले एक्टिवा स्कूटर की शोरूम कीमत 67,490 रुपये है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement