Advertisement

dhanbad

  • Sep 19 2019 10:26AM
Advertisement

बच्चा चोरी का मामला: झारखंड में रोज बढ़ रही अफवाह, भीड़ से बढ़ा खतरा, पुलिस के छूट रहे पसीने

बच्चा चोरी का मामला: झारखंड में रोज बढ़ रही अफवाह, भीड़ से बढ़ा खतरा, पुलिस के छूट रहे पसीने

बस्ताकोला : झारखंड में बच्चा चोरी की अफवाह थमने का नाम नहीं ले रही है. इससे सबसे ज्यादा प्रभावित धनबाद जिला है. धनबाद के झरिया थाना क्षेत्र की इंडस्ट्री कोलियरी में बुधवार की रात लगभग पौने नौ बजे बच्चा चोरी की अफवाह में करीब डेढ़ हजार लोग हथियार के साथ जमा हो गये. सूचना पाकर पुलिस दल बल के साथ पहुंची. अनियंत्रित भीड़ को काबू करने में पुलिस के पसीने छूट गये.

क्या था मामला : इंडस्ट्री कोलियरी गोलाई मोड़ निवासी अजय केवट के घर में अज्ञात व्यक्ति ने घर का दरवाजा खुलवाने के लिए आवाज लगायी. घर में अकेली उसकी पत्नी प्रियंका देवी तथा उसका तीन वर्षीय पुत्र था. अजय अपना ठेला लेकर अंडा समोसा बेचने गया था. महिला ने गेट खोलने से इनकार किया तो अज्ञात व्यक्ति घर के पीछे जाकर दीवार की ईंट हटाने लगा. इसी बीच बच्चा चोरी की अफवाह किसी ने उड़ा दी. आसपास के लोग लाठी डंडा हथियार से लैस होकर निकल गये. चारों ओर अफरा-तफरी मच गयी. घटना की सूचना पाकर झरिया गश्ती दल मौके पर पहुंची. स्थिति को देखते हुए पुलिस सायरन बजा कर लोगों को अपने घरों में वापस जाने की हिदायत देने लगी. लेकिन मामला उग्र होता गया. स्थानीय लोगों की शंका को दूर करने के लिए जंगल झाड़ियों में सर्च अभियान चलाया. लेकिन कोई भी बच्चा चोर नहीं मिला. काफी मशक्कत के बाद पुलिस लोगों को समझाने में कामयाब हुई. स्थानीय लोगों के भीड़ हटने के बाद भी पुलिस इंडस्ट्री कोलियरी क्षेत्र में गश्त करती रही. पुलिस ने अजय केवट के घर पहुंच  मामले का जानकारी ली. इंस्पेक्टर ने कहा कि कोई शराबी या चोर हो सकता है उसे बच्चा चोरी की अफवाह से नहीं जोड़ें. इस संबंध झरिया थाना इंस्पेक्टर  पीके सिंह ने कहा क्षेत्र शांति समिति सदस्यों व बुद्धिजीवियों  के साथ लोगों को जागरूक करने के लिए पुलिस पहल करेगी.

 
बरवाअड्डा के युवक को सारठ में बच्चा चोर बता कर पीटा, खंभे से बांधा
साढ़ू के घर जाने में रास्ता भटक गया था भोलेनाथ
सारठ बाजार : देवघर के सारठ प्रखंड स्थित खैरवनी बेलाबाद गांव में बच्चा चोर व मुड़कट्टा की अफवाह के बाद लोगों ने धनबाद के बरवाअड्डा थाना क्षेत्र के शिमलाटांड़ गांव निवासी भोलानाथ महतो की जम कर पिटाई कर दी. उसे बिजली के खंभे से बांध दिया. इसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने सारठ-देवघर मुख्य मार्ग (एनएच 114) को जाम कर दिया. भोलानाथ महतो डिंडाकोली गांव स्थित अपने साढ़ू के घर जा रहा था. आक्रोशित लोगों ने समझाने पहुंचे मुखिया के साथ धक्का-मुक्की की. पुलिस के साथ भी मारपीट की. बाद में पुलिस ने किसी तरह भोलानाथ को अपने कब्जे में लिया. उसे सारठ थाना लेकर पहुंची और लोगों को समझा कर जाम हटवाया.
रास्ता भटक गया था : बताया जाता है कि भोलानाथ महतो डिंडाकोली गांव स्थित अपने साढ़ू के घर जा रहा था. रास्ता भटक जाने के कारण वह खैरवनी बेलाबाद गांव पहुंच गया. इस बीच उसने गांव के कुछ लोगों से अपने साढ़ू गौउर मंडल के घर का पता पूछा, तो कुछ ग्रामीणों ने उसे बच्चा चोर कह पकड़ लिया. इसके बाद उसकी जम कर पिटाई कर दी. फिर उसे बिजली के खंभे से बांध दिया और सड़क जाम कर दी. 
पुलिस ने किसी तरह से निकाला : सूचना पाकर करीब घंटे भर बाद पहुंची सारठ पुलिस ने भी लोगों को समझाने का प्रयास किया. पर भीड़ ने पुलिसकर्मियों के साथ भी धक्का-मुक्की शुरू कर दी. आक्रोशित लोग मारपीट पर उतर आये. इसके बाद सारठ थाना प्रभारी अजय कुमार सिंह सदल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. किसी तरह से भोलेनाथ को अपने कब्जे में लिया. उसे सारठ थाना लाया गया. बाद में डिंडाकोली गांव से गौउर मंडल पूर्व मुखिया दिलीप मंडल व दर्जनों ग्रामीणों के साथ सारठ थाना पहुंचा और भोलेनाथ महतो की पहचान की. भोलेनाथ के पास से बैग में मांस, काली मां का फोटो, बांसुरी, एक चाकू, कपड़ा व अन्य सामान मिले हैं.
 
फुसबंगला पिटाई मामले में 150 पर केस
जोड़ापोखर : जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के फुसबंगला चौक के निकट पिछले दिनों धनबाद निवासी अधेड़ अजय कुमार सिन्हा(50) को बच्चा चोर समझ कर फुसबंगला गुलजार मोहल्ला के लोगों द्वारा पिटाई करने व बीच बचाव करने गयी पुलिस पर हमला करने मामले में जोडापोखर पुलिस थाना प्रभारी सत्यम कुमार के बयान पर आरोपियों के खिलाफ 109/19 के तहत मामला दर्ज किया है. पुलिस इस कांड में बुतरू कंगाली, हैदर कंगाली, सफी कंगाली, अमीर कंगाली, शमसाद कंगाली, नसीम कंगाली, सोनू कंगाली, सोनू सेलुनवाला, छोटू कंगाली, फारुख कंगाली, गुड्डू कंगाली, खलनायक कंगाली, इरफान कंगाली, झिनका कंगाली, तलवा कंगाली को नामजद करने के साथ 150 से 200 अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है.
 
बंगाल से प्रेमिका से मिलने आया युवक, संदेह में पकड़ाया
सिजुआ : जोगता पुलिस की सक्रियता के कारण बुधवार को एक युवक की जान बच गयी. पुराना श्याम बाजार के स्थानीय लोगों ने बच्चा चोर के संदेह पर एक युवक को पकड़ा. लोग काफी उग्र थे. इसी बीच जोगता पुलिस ने पहुंच कर युवक को बचाया. बाद में थाना में युवक ने पुलिस को बताया कि वह  बंगाल से अपनी  प्रेमिका से मिलने यहां आया हुआ था. लोगों ने उसे बच्चा चोर समझकर दबोच लिया. उनकी प्रेमिका भद्रीचक की रहने वाली है. समाचार लिखे जाने तक पुलिस युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.
 
पूर्वी टुंडी : विक्षिप्त महिला को लाठी-डंडा लेकर घेरा
पूर्वी टुंडी : पालोबेड़ा गांव में बुधवार शाम लगभग चार बजे एक अर्ध विक्षिप्त महिला को देख ग्रामीण महिलाएं उग्र हो गयीं. वह उसे गांव से खदेड़ने लगी. आगे-आगे अर्ध विक्षिप्त महिला और उसके पीछे लाठी-डंडा लिए दर्जनों ग्रामीण थे. ऐन मौके पर पूर्वी टुंडी पुलिस की गश्ती दल की की नजर महिला व उग्र भीड़ पर पड़ी. एसआइ बुधु उरांव ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर शांत किया. पूछताछ महिला नाम व पता कुछ नहीं बता पायी. झोला में एक शॉल व कुछ फटे पुराने कपड़ा मिला. बाद में महिला को जामताड़ा जाने वाली बस में चढ़ा दिया गया.
 
बरवाअड्डा : दूसरे गांव से लौट रहे युवक की पिटाई
बरवाअड्डा : मुर्राडीह गांव के समीप मंगलवार की देर रात बच्चा  चोरी के आरोप में ग्रामीणों ने फुफवाडीह गांव निवासी रंजीत कुमार साव (31) की जमकर पिटाई कर दी. सूचना पर बरवाअड्डा पुलिस पहुंची और रंजीत को  ग्रामीणों के चंगुल से छुड़ा कर इलाज के लिए पीएमसीएच भेज दिया. इस संबंध में  रंजीत महतो ने पुलिस को बताया कि वह अपने चाचा को नगरकियारी गांव में  छोड़कर वापस अपने घर लौट रहा था. इस दौरान जयनगर पुल के समीप आठ-दस लड़कों  ने घेर लिया. वह वहां से लड़कों को चकमा देकर भागने लगा. फिर युवकों ने  मोटरसाइकिल से पीछा करके उसे मुर्राडीह गांव के समीप घेर कर पकड़ लिया और  पिटाई करने लगे. मुर्राडीह के ग्रामीणों ने बीच-बचाव कर उसे बचाया.  बताया जाता है कि जयनगर गांव से एक 13 साल की  लड़की गायब हो गयी थी. इसको लेकर क्षेत्र में बच्चा चोरी की अफवाह फैल गयी.  हालांकि लड़की कुछ घंटों के बाद वापस घर लौट आयी. यह सूचना उसके पिता ने  पुलिस को दी है. मामले में रंजीत की शिकायत पर मुर्राडीह के भोला कर्मकार, गणेश सिंह व मनोज कर्मकार के खिलाफ बरवाअड्डा थाना में 341, 324, 323, 379 व 504-34 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement