Advertisement

devgarh

  • Feb 11 2019 7:23AM

देवघर : देश बचाना है तो चाइनीज छोड़ें स्वदेशी अपनायें

 देवघर : शिवलोक परिसर में स्वदेशी जागरण मंच का स्वदेशी दस दिवसीय मेला का उदघाटन रविवार को मंच के क्षेत्रीय संयोजक सचिंद्र बरियार व प्रांत संयोजक राजेश उपाध्याय समेत अन्य अतिथियों ने संयुक्त रुप से द्वारा किया. श्री बरियार ने कहा कि भारत को आर्थिक प्रगति पर लेकर जाना है व देश की सेवा में अपना योगदान देना चाहते हैं तो स्वदेशी उत्पाद को अपनायें.

देश को अगर बचाना है तो स्वदेशी को अपनाना होगा. आज दुनिया भर की विदेशी कंपनियों की नजर भारत पर है. विदेशी कंपनियों का मार्केट भारत बनता जायेगा तो इस देश के युवा बेरोजगार हो जायेंगे व अपना देश आर्थिक संकट पर पड़ जायेगा. विदेशी सामग्री का प्रयोग से अपने देश के उद्योग बंद हो जायेंगे.

स्वदेशी जागरण मंच ने पिछले वर्ष आंदोलन कर मेड इन चाइना के प्रोडक्ट का विरोध किया था  चाइना का विकास दर छह फीसदी घट गया, इस तरह से यह आंदोलन आगे भी करने की जरूरत है. जब तक विदेशी कंपनी को नहीं रोकेंगे तो देश आगे नहीं बढ़ेगा. इस स्वदेशी मेला में देश भर की  स्वदेशी उत्पाद के 105 स्टॉल लगाये गये हैं. इसमें घरेलू कार्यों में प्रयोग होने वस्तु समेत कई हस्तकला की कई वस्तुएं हैं. साथ ही कई ब्रांडेड भारतीय कंपनी के प्रोडक्ट हैं. 

इस मौके पर जिला संयोजक मनोज कुमार सिंह,  मिथिलेश वाजपेयी, विभागीय सह संयाेजक पवन  टमकोरिया, मेला संयोजक भारतेंदु दुबे, एसडी मिश्रा, महेश दुबे, सुबोध झा, सुनील कुमार सिंह, रुबी द्वारी झा, तनुजा,  संजीव सिंह, बबिता पोद्दार, बबलू, जीवेश सिंह, विपिल अग्रवाल आदि थे. मंच संचालन प्रो रामसेवक गुंजन व राकेश राय ने किया.   

नृत्य व संगीत में स्वदेशी रंग
समारोह में संस्कार भारती व सारेगामापा संगीत एकेडमी द्वारा अभिषेक सूर्य व राजनंदनी के नेतृत्व में सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ. नृत्य व संगीत में स्वेदशी रंग व धून से पूरा मेला परिसर देश भक्ति में सराबोर हो गया. इसमें गणेश वंदना, सरस्वती वंदना, शिव वंदना व दुर्गा स्तुति समेत देश भक्ति गीत प्रस्तुत किये गये. इसमें कालाकार अनन्या, आस्था, दिव्यांशी, चंदा, मुस्कान, अनुष्का, वैष्णवी, ईशा, आराध्या, निशा,धर्मवीर, शांभवी, साजन, मनीषा, खुशी, आदित्य आदि ने कला की प्रस्तुति की. 
 
ताराचरण खवाड़े को श्वेताभ स्मृति सम्मान
उदघाटन समारोह के दौरान साहित्य जगत में योगदान देने वाले प्रो ताराचरण खवाड़े को वर्ष 2018-19 में सुरेश प्रसाद सिंह श्वेताभ समृति सम्मान दिया गया. श्री खवाड़े को प्रांतीय संयोजक राजेश उपाध्याय, मेला संयोजक भारतेंदु दुबे व अभिषेक सूर्य के हाथों सम्मानित किया गया. इस मौके पर डॉ शंकर मोहन झा, शत्रुघन प्रसाद, सर्वेश्वर, अनिल, प्रो रामनंदन सिंह, प्रो रामसेवक गूंजन, उमाशंकर राव उरेंदु, रणवीर सिंह, अरविंद सिंह आदि थे.
 

Advertisement

Comments

Advertisement