मशहूर फिल्‍म प्रोड्यूसर राजकुमार बड़जात्‍या का निधन
Advertisement

devgarh

  • Feb 11 2019 7:27AM

देवघर : अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट का विरोध, विधायक प्रदीप यादव ने कहा - 14 गांवों की सहमति के बगैर कोई पावर प्रोजेक्ट नहीं लग सकता

देवघर :  अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट का विरोध, विधायक प्रदीप यादव ने कहा - 14 गांवों की सहमति के बगैर कोई पावर प्रोजेक्ट नहीं लग सकता

 देवघर : मोहनपुर प्रखंड स्थित चांदन नदी के उस पार सलैया गांव में अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट को लेकर झारखंड विकास मोर्चा के विधायक सह केंद्रीय महासचिव प्रदीप यादव ने जनसभा की. प्रदीप यादव ने अपने संबोधन में कहा कि इस क्षेत्र के 14 गांवों की सहमति के बगैर कोई पावर प्रोजेक्ट नहीं लग सकता है.

किसी भी सरकारी जमीन का मालिक ग्राम सभा होती है. सरकार को यहां किसी प्रकार के प्रोजेक्ट लगाने से पहले ग्राम सभा से सहमति लेनी थी. श्री यादव ने आरोप लगाया कि सांसद निशिकांत दुबे  तुगलकी फरमान जारी कर इस जमीन को पूंजीपतियों के हाथों बेचना चाहते हैं. भाजपा की सरकार गरीबों के हिस्से की जमीन काे लैंड बैंक में डालकर अडानी व अंबानी को कौड़ी के भाव में बेची जा रही है.

एसपीटी एक्ट में खास, गोचर व अन्य सरकारी जमीन पर रैयतों का अधिकार है. इस इलाके की जमीन का भी लैंड बैंक तैयार है. डीसी ने यह बात फोन पर मुझे बतायी है. लैंड बैंक की जमीन पर अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट लगायी जायेगी, इतनी जमीन में काम नहीं होगा तो आपकी रैयती जमीन ली जायेगी. उन्होंने कहा सांसद पावर प्रोजेक्ट लगाने पर कम, बखेड़ा लगाने में मशहूर है. इसलिए लोकसभा चुनाव में भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकना है व वर्तमान सांसद को वापस भेजना है.

प्रदीप ने कहा कि पावर प्रोजेक्ट के विरोध में उनके साथ हैं. आपकी समस्याओं को लेकर आंदोलन करते रहे हैं. चार लोगों पर किये गये झूठे मुकदमा को विधानसभा में भी उठाया गया है. हक की मांग करने वाले को झूठे मुकदमे में फंसा कर जेल भेजने का काम कर रही है. केस-मुकदमे से डरने की जररुत नहीं है. अगर महात्मा गांधी केस से डरते तो भारत आजाद नहीं होता. आपका साथ मुझे चाहिए, फिर गरीबों काे हक दिलाने के लिए जेल क्या फांसी पर चढ़ने को तैयार हूं.

इसलिए शांतिपूर्ण व गांधीवादी तरीके से विरोध करना होगा. इस लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए  26 फरवरी को सलैया गांव से मोहनपुर अंचल कार्यालय तक पदयात्रा कर प्रदर्शन किया जायेगा. इस मौके पर झाविमो जिलाध्यक्ष नागेश्वर सिंह, सुधीर दास, पंचायत समिति सदस्य चंद्रशेखर यादव,  दिनेश मंडल, हेमंत चौधरी, मुकेश यादव, नरेश यादव, मदन साह, गोकुल यादव, नुना मुर्मू, काली राम हांसदा, बनवारी राउत आदि थे.

 
गोड्डा सांसद ने किया पलटवार, कहा: विकास विरोधी हैं प्रदीप यादव
गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने इस मामले में कहा कि झाविमो विधायक प्रदीप यादव का काम केवल विकास का विरोध करना है. आज तक प्रदीप ने कोई विकास का काम नहीं किया, वे अपना अंतिम यात्रा नहीं, जनता को अंतिम यात्रा में भेजना चाहते हैं. सांसद ने फेसबुक पर पाेस्ट करते हुए कहा कि देवघर के मोहनपुर प्रखंड में चार हजार मेगावाट का बनने वाला केंद्र सरकार का पावर प्लांट बनकर रहेगा. इसे रोकने वाले को मेरी लाश से गुजरना पड़ेगा. मेरे खून का एक-एक कतरा केवल गोड्डा लोकसभा के विकास व रोज़गार के लिए है. जनता को ऐसे विकास विरोधी नेता को समझना चाहिए.,
 
 चिन्हित जमीन राज्य सरकार व वन विभाग की जमीन है. सरकारी जमीन पर केंद्र सरकार की पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन यह पावर प्रोजेक्ट लगाने जा रही है. सरकारी जमीन पर सरकार का जब प्रोजेक्ट लग रहा है तो इसमें पूंजीपतियों को जमीन देने की बात कहां से आ गयी है. यह मुर्खता की पराकाष्ठा है, प्रदीप जनता को गुमराह कर रहे हैं. सांसद ने कहा कि उन्होंने बांका सांसद जयप्रकाश यादव से बता दिया है कि वे अपने राजद कार्यकर्ताओं इस पावर प्रोजेक्ट का विरोध करने से रोकें, नहीं तो बांका के ककवारा में बनने वाला केंद्र सरकार के पावर प्रोजेक्ट को हम नहीं बनने देंगे.
 

Advertisement

Comments

Advertisement